Monday , September 21 2020 18:55
Breaking News

कंगना रनौत से पंगा लेना उद्धव ठाकरे सरकार को पड़ा भारी, हिल गयी नींव , होने जा रहा आज रात..

कंगना रनौत के ऑफिस तोड़े जाने के बाद शिवसेना के मुखर सांसद संजय राउत अलग-थलग पड़ते जा रहे हैं । कंगना के ऑफिस पर बुलडोजर चलाए जाने के बाद संजय राउत ने कहा कि ‘इसमें मेरा कोई हाथ नहीं है यह उद्धव ठाकरे सरकार की कार्रवाई है’ ।

 

राउत ने कहा कि इसका जवाब सिर्फ बीएमसी के कमिश्नर दे सकते हैं । ऐसे में अब बीएमसी ही अदालत में जवाब देगी । ‘उन्होंने कहा कि मेरा अभिनेत्री के साथ विवाद खत्म हो गया है’।

एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा कि बीएमसी की कार्रवाई ने अनावश्यक रूप से कंगना को बोलने का अवसर दे दिया है । मुंबई में कई अन्य अवैध निर्माण हैं । शरद पवार ने कहा कि हर कोई जानता है कि मुंबई पुलिस सुरक्षा के लिए काम करती है ।

आपको इन लोगों को प्रचार नहीं देना चाहिए। ऐसे ही महाराष्ट्र कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरुपम ने भी उद्धव सरकार पर निशाना साधा है । गौरतलब है कि महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की गठबंधन सरकार है और बीएमसी पर शिवसेना का कब्जा है ।

कंगना के ऑफिस पर बीएमसी की कार्रवाई पर एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने उद्धव सरकार की आलोचना की है । दूसरी ओर सोशल मीडिया पर शिवसेना सरकार को निशाना बनाया जा रहा है ।

मामला अब केंद्र सरकार तक पहुंच गया है । बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत के खिलाफ बीएमसी की कार्रवाई से भारतीय जनता पार्टी के साथ ही शिवसेना की सहयोगी पार्टी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी और कांग्रेस ने भी सवाल उठाए हैं

फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत के साथ पंगा लेना महाराष्ट्र की उद्धव ठाकरे सरकार को बहुत महंगा पड़ने लगा है । आज से पहले शिवसेना और कंगना रनौत की लड़ाई ‘महाराष्ट्र की अस्मिताा’ को लेकर चल रही थी ।

लेकिन बुधवार को उद्धव ठाकरेेेे सरकार ने कंंगना रनौत के ऑफिस पर बुलडोजर चलवा कर अपनी ‘सरकार की नींव हिला ली है’ । महाराष्ट्र सरकार के इस फैसले की पूरे देश भर में आलोचना शुरू हो गई है ।

 

 

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!