Breaking News

सैयद अकबरुद्दीन ने कहा :’कश्मीर में सामान्य हालात पचा नहीं रहा पाक, ध्यान रहे तुम जितना गिरोगे…

Loading...

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान 27 सितंबर को संयुक्त राष्ट्र महासभा को संबोधित करने वाले हैं. इमरान खान ने अपने संबोधन में कश्मीर का मुद्दा उठाने की बात कही है. इस पर यूएनओ में भारत के स्थायी प्रतिनिधि सैयद अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान को कड़ी चेतावनी दी है. को  से बात करते हुए अकबरुद्दीन ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा कि कश्मीर के मुद्दे पर पाकिस्तान जितना नीचे गिरेगा, भारत का कद उतना ही बढ़ेगा. वह ठोकरें खाते हैं, भारत ऊंची उड़ान भरता है.

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री की बहुपक्षीय और द्विपक्षीय व्यस्तताओं और बैठकों के ढेर सारे उदाहरण इस बात को रेखांकित करते हैं कि भारत कितना ऊंचा होगा. अकबरुद्दीन ने कहा कि वह क्या चाहते हैं, उनकी मर्जी है. हमने पहले मेनस्ट्रीम टेररिज्म देखा है. अब वह मेनस्ट्रीम हेट स्पीच दे सकते हैं. उन्होंने कहा कि यदि वह यही चाहते हैं, तो ऐसा कर सकते हैं. प्वाइजन पेन लंबे समय तक काम नहीं करता है.गौरतलब है कि अकबरुद्दीन का यह बयान उसी दिन आया है, जिस दिन पाकिस्तान यूएनएचआरसी में अपनी किरकिरी करा चुका है. इमरान खान के संबोधन के दिन ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संबोधन का भी कार्यक्रम है.

Loading...

कश्मीर में सामान्य हालात, पचा नहीं रहा पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद पाकिस्तान बौखलाया गया है. इमरान खान का कहना है कि वो इस मुद्दे को उठाते रहेंगे और अब संयुक्त राष्ट्र महासभा की आम बैठक में पाकिस्तान ने कश्मीर मसले को उठाने का फैसला किया है. इन बीच अमेरिका में भारत के राजदूत एचवी श्रृंगला ने कहा कि पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान इस बात से परेशान नहीं हैं कि कश्मीर से अनुच्छेद 370 को हटा दिया गया है बल्कि वो इस बात से परेशान हैं कि कश्मीर में किस तरह से हालात सामान्य हो रहे हैं.

दें कि जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान लगातार अंतरराष्ट्रीय स्तर पर गिड़गिड़ाता रहा है, लेकिन उसे चीन को छोड़कर कहीं से भी समर्थन नहीं मिला. पाक विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने भी पिछले दिनों कहा था कि पीएम इमरान खान युएन की आमसभा में अंतरराष्ट्रीय बिरादरी के समक्ष जबरदस्ती कश्मीर का उठाएंगे.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!