Monday , September 28 2020 13:36
Breaking News

सुशांत केस : रिया चक्रवर्ती हो सकती है गिरफ्तार, पांच बार किया ऐसा…

शोविक और दीपेश के कबूलनामे के बाद अब रिया चक्रवर्ती पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है. एनसीबी की पूछताछ में शोविक ने बताया कि ड्रग्स लाने के लिए पैसे रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) देती थीं. वो पैसे सुशांत के एकाउंट से निकाले जाते थे, एनसीबी के पास इस बात के पुख्ता सुबूत हैं.

 

एनसीबी जांच में पता चला है कि दीपेश सावंत पांच बार चरस और गांजा लेने के लिए गया था. दीपेश को ये काम एनसीबी के मुताबिक, रिया और शोविक ने करने के लिए कहा था. 17 मार्च, 2020 सैमुअल मिरांडा के साथ शोविक के कहने पर 5 ग्राम गांजा लेने के लिए दीपेश बांद्रा गया था. यह गांजा ज़ैद ने दीपेश को दी थी.

फिलहाल, जैद पहले से एनसीबी की गिरफ्त में है. 17 अप्रैल को रिया चक्रवर्ती और शोविक के कहने पर दीपेश ने माउंट ब्लैंक इमारत के पास कैजान नामक आरोपी से 10 ग्राम चरस लिया था. 1 मई को शोविक ने व्हाट्सएप के जरिए दीपेश को ड्वेन नामक व्यक्ति से गांजा लेने के लिए कहा था.

साथ ही उसका नंबर भी शेयर किया था. 2 मई को एक बार फिर दीपेश ने ड्वेन से 50 ग्राम गांजा रिसीव किया था. जून के पहले हफ्ते में दीपेश ने ऋषिकेश पवार के डिलीवरी ब्वॉय से भी 100 ग्राम गांजा रिसीव किया था.

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने शनिवार को दीपेश को गिरफ्तार किया था. रविवार को उसे कोर्ट में पेश किया गया, जिसके बाद उसे 9 सिंतबर तक के लिए एनसीबी की हिरासत में भेज दिया गया. एनसीबी ने दीपेश से काफी घंटों पूछताछ की, जिसमें पता चला है कि दीपेश सावंत पांच बार चरस और गांजा लेने के लिए गया था.

सूशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) केस में जांच की दिशा ड्रग्स एंगल पर जा मुड़ी है. आज का दिन मामले में काफी अहम है. शनिवार को शोविक चक्रवर्ती (Showik Chakraborty) ने यह कबूल किया था कि वह रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के कहने पर ड्रग्स अरेंज करता था.

शोविक के बाद अब सुशांत के कुक दीपेश सांवत (Dipesh Sawant) ने भी रिया के कहने पर ड्रग्स लाने की बात कबूल शोविक और दीपेश के कबूलनामे के बाद अब रिया चक्रवर्ती पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है.

एनसीबी की पूछताछ में शोविक ने बताया कि ड्रग्स लाने के लिए पैसे रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) देती थीं. वो पैसे सुशांत के एकाउंट से निकाले जाते थे, एनसीबी के पास इस बात के पुख्ता सुबूत हैं. की है.

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!