Breaking News

सुजीत कुमार आय से अधिक संपत्ति के कारण फंसे मुद्दे में,  मुकदमा हुआ दर्ज

Loading...
पेयजल निगम के निलंबित अधिशासी अभियंता सुजीत कुमार विकास आय से अधिक संपत्ति के मुद्दे में फंस गए हैं. विजिलेंस ने जाँच के बाद उनके विरूद्ध मुकदमा दर्ज कर लिया है. शुक्रवार को पांच घंटे सर्च के दौरान इनके आवास से नौ प्रॉपर्टी की डिटेल के अतिरिक्त कई लाख का सोना आदि बरामद किया गया है. इंस्पेक्टर रामेश्वर सती मुद्दे की जाँच करेंगे.

विजिलेंस लंबे समय से पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता (फिलहाल निलंबित) सुजीत कुमार विकास की संपत्ति को लेकर सीक्रेट जाँच कर रही थी. इसी बीच आय से अधिक संपत्ति उजागर होने पर विजिलेंस ने शासन से मुकदमा दर्ज करने की अनुमति मांगी थी. अनुमति के बाद विजिलेंस ने बृहस्पतिवार रात निलंबित अभियंता के विरूद्ध आय से अधिक संपत्ति का मुद्दा दर्ज किया. शुक्रवार प्रातः काल विजिलेंस ने सुजीत कुमार की डालनवाला स्थित कोठी में सर्च ऑपरेशन चलाया. पांच घंटे की तलाशी अभियान के दौरान विजिलेंस ने कई दस्तावेज कब्जे में लिए हैं. सूत्राें के मुताबिक सर्च में नौ प्रॉपर्टी के बारे में जानकारी मिली है. इनमें प्लाट, बिल्डिंग  फ्लैट भी शामिल हैं. बता दें कि इसी वर्ष विजिलेंस ने वन विभाग के ऑफिसर किशन चंद  आयुर्वेद विवि के निलंबित कुल सचिव मृत्युंजय मिश्रा के विरूद्ध आय से अधिक संपत्ति के मुकदमे दर्ज किए गए हैं.

दो  मामलों में अनुमति का इंतजार
विजिलेंस को आय से अधिक संपत्ति के दो मामलों में अधिकारियों के विरूद्ध शासन की अनुमति का इंतजार है. बता दें कि विजिलेंस ने सीक्रेट जाँच कर तीन अधिकारियों के विरूद्ध आय से अधिक संपत्ति होने के साक्ष्य जुटाए गए थे. विजिलेंस ने इन अधिकारियों के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराने को शासन से अनुमति मांगी थी. पेयजल निगम के अधिशासी अभियंता पर तो मुकदमा दर्ज हो गया है. दो अन्य प्रकरणों में आने वाले दिनों में अभियोग दर्ज करने की उम्मीद है.

Loading...

छह ठिकानों पर इनकम टैक्स विभाग की टीम ने की दस्तावेजों की सघन जांच
ऋषिकेश में आयकर विभाग की टीम ने शुक्रवार को शहर के एक सेब व्यापारी के छह दफ्तरों पर सर्वे की कार्रवाई की. दस्तावेजों की पड़ताल की प्रक्रिया देर रात तक चलती रही. विभागीय सूत्रों के मुताबिक ऋषिकेश के सेब व्यापारी लक्ष्मी प्रसाद सेमवाल के कुल 6 दफ्तरों पर इनकम टैक्स टीम ने कागजात खंगाले. इसके तहत विभिन्न टीमों ने व्यापारी के उत्तरकाशी के धरानी, टखनौरजाल, सुखी, नौगांव सहित ऋषिकेश कोठारी मार्किट  पुराना बस अड्डा के निकट मेनका होटल के कार्यालयों पर छानबीन की गई. यह कार्रवाई प्रधान मुख्य इनकम टैक्स आयुक्त यूपीए उत्तराखंड पीके गुप्ता  प्रधान इनकम टैक्स आयुक्त सुनीति श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में की गई है. कार्रवाई में ऋषिकेश, हरिद्वार  रुड़की के इनकम टैक्स अफसरों की टीम शामिल रही.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!