Friday , September 25 2020 15:45
Breaking News

अमेरिका के साथ रूस ने दिया भारत का साथ, कहा अगर चीन ने…किया तो…

बता दें कि विदेश मंत्री एस जयशंकर आठ देशों के शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) की मंत्रिस्तरीय बैठक में भाग लेने के लिये मंगलवार को चार दिवसीय रूस दौरे पर गए हैं। इस दौरान वह बृहस्पतिवार को बैठक से इतर चीन के विदेश मंत्री वांग यी से भी मुलाकात कर सकते हैं।

भारत में रूसी दूतावास के उप प्रमुख रोमन बबुश्किन ने कहा कि उनकी सरकार बातचीत के जरिए पूर्वी लद्दाख में तनाव कम होते देखना चाहती है। बबुश्किन ने ऑनलाइन बातचीत में कहा, ‘हमें उम्मीद है कि भारत और चीन बातचीत के जरिये सीमा विवाद सुलझा लेंगे।’ उन्होंने यह टिप्पणी पूर्वी लद्दाख में भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच ताजा झड़प के बाद बढ़े तनाव के एक दिन बाद की है।

भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर अमेरिका, फ्रांस सहित कई बड़े देश भारत को समर्थन दे रहे हैं। इस बीच अब रूस ने भारत का साथ देते हुए उम्मीद जताई कि भारत और चीन बातचीत के जरिए सीमा विवाद सुलझा लेंगे। साथ ही उसने दोनों देशों की रजामंदी के बिना मध्यस्थता कराने की बात से भी इंकार कर दिया।

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!