Saturday , October 24 2020 3:18
Breaking News

प्रियंका गाँधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, करने को कहा ये काम

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि अब तीन साल गुजर जाने के बाद भी इन प्रतिभावान युवाओं की नियुक्ति नहीं हो पाई है। उन्होंने कहा कि ऐसे में यह युवा मजबूरी में कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रहे हैं।

 

प्रियंका गाँधी ने सीएम योगी को लिखा पत्र, करने को कहा ये काम

इनमें से कई ऐसे बच्चे हैं, जिनके जीवन संघर्ष से भरे हैं। इनकी दर्दनाक कहानी सुनकर मुझे बहुत दुख हुआ। मैं समझ नहीं पा रही हूं कि सरकार ने इनके प्रति एक आक्रामक और निर्मम स्वभाव क्यों अपनाया है,क्योंकि यही उत्तर प्रदेश का भविष्य बनाने वाली पीढ़ी है और सरकार इनके प्रति जवाबदेह है।

उन्होंने मुख्यमंत्री से कहा कि ये युवा बहुत परेशान हैं। कोरोना महामारी इनके ऊपर और भी कहर बरपा रही है। एक तो इन्हें नौकरी नहीं मिल रही है, ऊपर से इस महामारी में उनके सामने गहरा आर्थिक संकट खड़ा हुआ है।

कई अभ्यर्थी तो भयानक अवसाद में हैं। उनके ऊपर घर के नमक, तेल और राशन का भी बोझ है। प्रियंका ने मुख्यमंत्री से आग्रह किया कि मानवीय संवेदनाओं को देखते हुए और युवाओं के रोजगार का हक का सम्मान करते हुए इन 24 जनपद के अभ्यर्थियों की नियुक्ति करायी जाए।

पत्र में प्रियंका ने कहा है कि उत्तर प्रदेश का युवा बहुत परेशान और हताश है। कुछ दिनों पहले ही उन्होंने 12,460 शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर बातचीत की थी।

इस शिक्षक भर्ती में 24 जिले शून्य जनपद घोषित थे। यानि कि इन 24 जिलों में कोई जगह नहीं खाली थी। मगर, अन्य जिलों की भर्तियों के लिए इन बच्चों ने मेरिट में स्थान प्राप्त किया। काउंसलिंग में हिस्सा लिया, इनको विद्यालय आवंटित हुए, नियुक्ति पत्र भी छपा। लेकिन, मिला नहीं।

कांग्रेस महासचिव और प्रदेश प्रभारी प्रियंका वाड्रा ने 12,460 शिक्षक भर्ती के अभ्यर्थियों से वीडियो कांफ्रेंसिंग पर बातचीत के बाद शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखा है।

इसमें उन्होंने हताश व परेशान बेरोजगार युवाओं को कोर्ट कचहरी का चक्कर न लगवाकर, 24 शून्य जनपद के अभ्यर्थियों की जल्द नियुक्ति की मांग की है।

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!