जानिए उत्तराखंड बोर्ड: 11वीं का बदला परीक्षा पैटर्न, लागू हुआ ये …

Share & Get Rs.

उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा एवं परीक्षा परिषद (उत्तराखंड बोर्ड) ने इंटरमीडिएट का परीक्षा पैटर्न बदल दिया है। इस साल से 11वीं कक्षा के इतिहास और अर्थशास्त्र के पेपर में प्रैक्टिकल व्यवस्था लागू कर दी गई है। अगले साल से यह व्यवस्था 12वीं में भी लागू की जाएगी।

इससे 100 अंकों के बजाय अब इन विषयों के 80 नंबर के पेपर होंगे। जबकि 20 नंबर प्रैक्टिकल के आधार पर परीक्षार्थी को दिए जाएंगे। विद्यालयी शिक्षा सचिव ने इस संबंध में सभी जिलों के मुख्य शिक्षा अधिकारियों को नई गाइडलाइन जारी कर दी है। उत्तराखंड विद्यालयी शिक्षा परिषद के अपर सचिव बीएमएस रावत की तरफ से जारी निर्देश में कहा गया है।

इंटरमीडिएट स्तर पर इतिहास एवं अर्थशास्त्र विषयों में आंतरिक मूल्यांकन (प्रैक्टिकल) की व्यवस्था को सत्र 2021-22 से लागू किया जा रहा है। इस साल से 11वीं कक्षा में इतिहास और अर्थशास्त्र विषयों में 20 अंकों का प्रैक्टिकल का विद्यालय स्तर पर आंतरिक मूल्यांकन किया जाएगा। जबकि 80 नंबर का पेपर होगा।

अभी तक इन विषयों में होते हैं प्रैक्टिकल
उत्तराखंड बोर्ड में फिजिक्स, कैमिस्ट्री, बायलॉजी, ज्योग्राफी, बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन, समाज शास्त्र, म्यूजिक, होम साइंस के पेपर में प्रैक्टिकल की व्यवस्था पूर्व से लागू है। फिजिक्स, कैमिस्ट्री, बायलॉजी, होम साइंस और ज्योग्राफी में 30-30 नंबर के प्रैक्टिकल होते हैं। जबकि बिजनेस ऑर्गेनाइजेशन और समाजशास्त्र में 20 नंबर का प्रैक्टिकल होता है। इससे पहले इतिहास और अर्थशास्त्र में 100 नंबर की थ्योरी होती थी। नए नियम के बाद इसमें 20 नंबर के प्रैक्टिकल और 80 नंबर की थ्योरी होगी।

Share & Get Rs.