Friday , November 22 2019 4:06
Breaking News

तीन दिन की मीटिंग में 4 अक्टूबर को रेपो रेट में की कटौती

Loading...

स्टेट बैंक ऑफ इंडिया भारतीय स्टेट बैंक ) ने अर्थव्यवस्था में लिक्विडिटी को देखते हुए बैंक डिपोजिट  फिक्स्ड डिपोजिट (FD) पर ब्याज कम कर दिया है. अब 1 लाख रुपये तक के बैंक डिपोजिट पर 3.50 प्रतिशत की स्थान 3.25 प्रतिशत का ब्याज मिलेगा. ये नयी ब्याज दरें 1 नवंबर 2019 से लागू होंगी.

एसबीआई बैंक ने बैंक डिपोजिट के अतिरिक्त टर्म डिपोजिट  बल्क डिपोजिट पर भी ब्याज दरें क्रमश: 10 बेसिस प्वाइंट  30 बेसिस प्वाइंट घटा दी हैं. ये नयी दर एक से दो वर्ष तक के टर्म डिपोजिट पर लागू होंगी. ये नयी दरें 10 अक्टूबर से लागू होंगी.

Loading...

एफडी पर ब्याज दरें घटाने के अतिरिक्त एसबीआई ने छठी बार वित्त साल 2019-20 के लिए एमसीएलआर (MCLR) घटा दिया है. यानी, अब एसबीआई बैंक का होम लोन, कार लोन, व्यक्तिगत कर्ज़ आदि कर्ज़ लेना  सस्ता हो जाएगा. अब नयी दरों के मुताबिक एमसीएलआर दर 10 अक्टूबर से 8.05 प्रतिशत होगी. एसबीआई ने ब्याज दरों में 10 बेसिस प्वाइंट की कटौती की है. दीपावली से पहले ब्याज दरों में कटौती कर एसबीआई बैंक ने लाखों ग्राहकों को तोहफा दिया है.

 

एसबीआई बैंक की कर्ज़ पर नयी ब्याज दरें 8.15 प्रतिशत से घटकर 8.05 प्रतिशत हो गई है. ये नयी दरें 10 अक्टूबर से लागू हो चुकी है. एसबीआई बैंक ने ब्याज दरें भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के रेपो रेट घटाने के बाद किया है. रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया  ने लोगों को दीपावली पर तोहफा दिया था. आबीआई ने रेपो रेट में 25 बेसिस प्वाइंट की कटौती की जिसके बाद रेपो रेट 5.40 प्रतिशत से घटकर 5.15 प्रतिशत हो गई है.

रिजर्व बैंक के गवर्नर शक्तिकान्त दास की प्रतिनिधित्व वाली मौद्रिक नीति समिति (RBI Monetary Policy Meeting) तीन दिन की मीटिंग की में 4 अक्टूबर थी.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!