जौनपुर में छोटे दुकानदारों पर कहर बनकर टूटा बुलडोजर, सामान भी मलबे में दबे

Share & Get Rs.

एक तरफ योगी सरकार का बुलडोजर दंगाइयों और पत्थरबाजों पर चल रहा है। अवैध निर्मार्ण कराने वाले और माफिया पर भी बुलडोजर गरज रहा है। इस बीच जौनपुर में छोटे दुकानदारों पर बुलडोजर कहर बनकर टूटा है। एक कपड़ा व्यवसायी ने भूमि विवाद में चौरा माता मंदिर के ठीक सामने स्थित आधा दर्जन दुकानों पर अचानक आधी रात में बुलडोजर चलवा दिया। इससे दुकानों के साथ ही उसमें भरे सामान भी बर्बाद हो गए। लाखों की कीमत के सामान मलबे में दब गए। सुबह अपनी दुकान खोलने लोग पहुंचे तो वहां का मंजर देख हड़कंप मच गया। पुलिस ने दुकानदारों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया है।

नगर कोतवाली क्षेत्र के ओलन्दगंज में स्थित चौरा माता मंदिर के ठीक सामने छोटी-छोटी आधा दर्जन दुकानें थी। इसमें चूड़ी व प्लास्टिक का सामान लोग बेचते थे। कुछ साल पहले इस जगह का बैनामा कपड़े बड़े व्यवसायी राजाराम एंड संस के मालिक ने करा लिया। बैनामा होने के बाद दुकान खाली कराने को लेकर विवाद शुरू हो गया।

इसका मुकदमा नगर मजिस्ट्रेट के यहां चल रहा था। एक पक्ष परमजीत सिंह व दूसरा पक्ष बैनामा कराने वाले राजाराम एंड संस के मालिक हैं। इसी बीच आरोप है कि रात में राजाराम के बेटे प्रमोद अग्रहरी व अन्य लोग आए और बुलडोजर से दुकानों को ध्वस्त करा दिया।

बिना किसी सूचना के ध्वस्तीकरण कराने से दुकान में रखा लाखों का माल दबकर नष्ट हो गया। परमजीत ने कोतवाली पुलिस को सूचना दी। मौजूदा कोतवाल छुट्टी पर थे। एएसआई रमेश यादव ने घटनास्थल का निरीक्षण किया।

Share & Get Rs.