Tuesday , September 22 2020 23:20
Breaking News

जापान के लिए खतरा बना चीन, कभी भी दाग सकता मिसाइल और…

जापानी रक्षा मंत्री ने कहा कि चीन के पास क्षमता और इरादे दोनों ही गलत ट्रैक पर नजर आ रहे हैं जिस कारण चीन को अंतरराष्‍ट्रीय नियमों और मानकों का उल्‍लंघन करने पर कुछ अतिरिक्‍त कीमत चुकाने के लिए मजबूर करना होगा. जापानी रक्षा मंत्री ने यह भी कहा कि जापान और अमेरिका इसे अकेले नहीं कर सकते हैं.

 

जापान ने कहा कि चीन अपने प्रभाव का विस्तार करने और सामरिक वर्चस्व कायम करने के लिए कोरोनो वायरस महामारी (Epidemic) का भी उपयोग कर रहा है.

इस कारण जापान और इस क्षेत्र के लिए एक बड़ा खतरा पैदा हो गया है. पूर्वी चाइना सी को लेकर चीन का सभी पड़ोसी देशों से विवाद है. इसे दबाने के लिए चीनी नेवी इस क्षेत्र में लगातार युद्धाभ्यास भी कर रही है. जिसके कारण आसपास के देशों को जानबूझकर समुद्र में जाने से रोका जा रहा है.

चीन की घुसपैठ के खिलाफ जापान ने भारत के समक्ष मदद की गुहार लगाई है. पूर्वी चीन सागर में चीनी युद्धपोतों की बढ़ती संख्या से परेशान जापान ने भारत से सहयोग बढ़ाने का प्रस्‍ताव दिया है.

जापान के रक्षा मंत्री तारो कोनो ने कहा कि चीन जापान के लिए सुरक्षा खतरा बन गया है. जापानी विदेश मंत्री का यह बयान ऐसे समय पर आया है, जब भारत-चीन तनाव अपने चरम पर है. उन्‍होंने भारत से चीन के विस्‍तारवादी नीतियों का मुकाबला करने के लिए व्‍यापक क्षेत्रीय तंत्र बनाने का सुझाव दिया है.

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!