Breaking News

लुधियाना में खुद को पंजाब पुलिस बता कर लूट करने वाला गिरोह हुआ गिरफ्तार

लुधियाना में खुद को पंजाब पुलिस का मुलाजिम बता बाहर से आने वाले व्यापारियों से लूटपाट करने वाले गिरोह के सरगना को थाना कोतवाली की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरोह के तीन सदस्य अभी फरार बताए जा रहे है। गिरोह मुंबई के पटेल नगर एवेबली का है। आरोपियों ने लूटपाट, चोरी और नौसरबाजी की वारदातें देश के कई राज्यों के शहरों में की है।

लूटपाट करने के बाद आरोपी वापस चले जाते थे। पुलिस आरोपी को सोमवार को मुंबई से गिरफ्तार कर लौटी है। उसकी पहचान मुंबई के पटेल नगर एवेबली निवासी लालू खानी ईरानी उर्फ बुल्डोजर उर्फ सियाज के रुप में हुई है। गिरोह के तीन सदस्य अमजद समीर जाफरी, युसूफ अजीत अली, शकीर फरार हैं। पुलिस आरोपी लालू ईरानी से पूछताछ कर उसके फरार तीन साथियों का पता लगाने में जुटी हुई है। आरोपी के गिरफ्तार होने के बाद ट्रंका वाले बाजार, सुभानी बिल्डिंग के पास और ब्रहमपुरी चौक में हुई वारदातें ट्रेस हो चुकी है।

loading...

एडीसीपी वन गुरप्रीत सिंह सिकंद ने बताया कि फेस्टीवल सीजन और होजरी के सीजन के चलते बाहरी राज्यों से शहर में व्यापारियों का आना जाना लगा है। आरोपी रेलवे स्टेशन से ही व्यापारियों के पीछे लग जाते थे। भीड़ भाड़ वाले इलाके में आरोपी व्यापारी को रोक लेते और खुद को पुलिस मुलाजिम बता कर उसके सामान की तलाशी लेनी शुरू कर देते थे। इसी दौरान आरोपी पैसे लेकर फरार हो जाते थे।

पूछताछ में पता चला कि फेस्टीवल सीजन में आरोपी ने उत्तर भारत को टारगेट बना रखा है। उनके गिरोह के सौ से ज्यादा सदस्य उत्तर भारत के अलग अलग राज्यों में आए हुए है। आरोपी मुंबई से दिल्ली तक ट्रेन के जरिये आए थे। ईरानी के साथ उसके तीन सदस्यों ने दिल्ली से दो बाइक चोरी किए। वहां से बाइक के जरिये पानीपत में वारदातों को अंजाम देते हुए महानगर पहुंचे और लूट की वारदातों को अंजाम देकर लौट गए।

सुंदर लड़की से शादी के लिए अधिक वारदातें
लालू ईरानी ने पुलिस पूछताछ में बताया कि मुंबई के पटेल नगर स्थित एमेबली इलाके की रेलवे लाइनों के पास ईरानी कबीले के लोग ही रहते है। उन्होंने अपनी एक अलग ही बस्ती बना रखी है। ज्यादातर लोग अपराधिक वारदातों में ही शामिल है। कबीले में जो व्यक्ति चोरी, लूटपाट और अपराधिक वारदातें अधिक करता है, उसकी शादी भी सबसे सुंदर लड़की से की जाती है। इस समय अपने कबीले का मुखिया लालू ईरानी खुद ही है।

अपने घर के पीछे भागने का भी बना रखा है रास्ता 
आरोपियों ने झुग्गियों की तरह अपने मकान बना रखे है। हर मकान के पीछे छोटा सा रास्ता छोड़ा हुआ है ताकि वारदात के बाद वह घर पहुंच जाए तो अगर पुलिस को पता चल जाए तो वह फरार होने में कामयाब हो सके। पुलिस के मुताबिक आरोपी अगर अपने इलाके में घुस जाते थे तो उन्हें गिरफ्तार करना काफी मुश्किल हो जाता था।  पुलिस वहां जाती तो आरोपी पत्थरबाजी शुरू कर देते थे।

देश के कई राज्यों में कर चुके है वारदातें 
पुलिस पूछताछ में लालू ईरानी ने बताया कि उनके गिरोह के सौ से ज्यादा सदस्य शामिल है। आरोपियों ने महाराष्ट्र के अलावा, पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु, राजस्थान, उत्तरप्रदेश, हरियाणा, दिल्ली, कर्नाटक, मद्रास मध्यप्रदेश और पंजाब के कई शहरों में चोरी, लूटपाट और नौसरबाजी की वारदातों को अंजाम दिया है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!