Breaking News

जिम्बाब्वे के नागरिकों ने पूर्व राष्ट्रपति रॉबर्ट मुगाबे के पार्थिव शरीर को दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

Loading...

लंबे समय तक जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति रहे रॉबर्ट मुगाबे के पार्थिव शरीर को यहां के नेशनल स्पोर्ट्स स्टेडियम में को राजकीय सम्मान दिया गया। देश के नागरिकों ने उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी। इस मौके पर कई अफ्रीकी देशों के प्रमुख और दुनियाभर के राजनयिक मौजूद रहे।

मुगाबे का पिछले हफ्ते सिंगापुर में निधन हो गया था। उनके पार्थिव शरीर को बुधवार को विमान के जरिए हरारे लाया गया।
मुगाबे के ताबूत को रेड कारपेट से सजे स्टेडियम में सेना के अधिकारियों द्वारा लाया गया। इस दौरान उनके रिश्तेदार और उनकी पत्नी ग्रेस भी वहां मौजूद पोडियम पर अपने विचार रखने पहुंचीं।हजारों की संख्या में सभी नागरिकों और जवानों ने देश के सबसे बड़े स्टेडियम तक जयकारों और गायन के साथ मार्च किया। स्टैंडों से उन्होंने अपने पूर्व राष्ट्रपति मुगाबे के पार्थव शरीर को देखा।

Loading...

एफे न्यूज के अनुसार, राष्ट्रपति एमर्सन मैनगाग्वा इस समारोह में 11 अफ्रीकी प्रमुखों के साथ पहुंचे, जिनमें दक्षिण अफ्रीका के राष्ट्रपति सिरिल रामाफोसा भी शामिल थे।
देश के प्रमुख लोगों के लिए बने कब्रिस्तान नेशनल हीरो एकड़ में मुगाबे के पार्थिव शरीर को रविवार को दफनाया जाएगा।
सिंगापुर के एक अस्पताल में 6 सितंबर को 95 वर्ष की आयु में पूर्व राष्ट्रपति का निधन हुआ।
अपने उत्तराधिकारी को लेकर पूर्व राष्ट्रपति के और प्रथम महिला ग्रेस के बीच तनाव पैदा हुआ और उन्होंने अपने तत्कालीन उपराष्ट्रपति मैनगाग्वा को निकाल दिया था, जिसके बाद नवंबर 2017 में मुगाबे का तख्तापलट कर दिया गया था।
मैनगाग्वा पार्टी के वफादार रहे थे और उन्हें शक था कि बीमार नेता की मौत के बाद ग्रेस उनकी जगह खुद को देख रही हैं।

इसे लेकर सेना ने मुगाबे को मतभेद का इशारा किया था और चेताया था कि अगर उन्होंने सत्तारूढ़ जानू-पीएफ पार्टी के कलह को दूर नहीं किया तो इसके गंभीर परिणाम हो सकते हैं।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!