Saturday , August 8 2020 18:13
Breaking News

कोरोना के चलते यूपी की कैबिनेट मंत्री की हुई मौत, खबर सुनते ही सीएम योगी ने किया…

कमल रानी वरुण कानपुर देहात के घाटमपुर से विधायक थी। वह दो बार लोकसभा सदस्य भी रही हैं। उनके परिजन कानपुर साउथ के बर्रा में रहते हैं। परिजन शव लेकर कानपुर रवाना हो गए हैं। वही उनका अंतिम संस्कार भी किया जाएगा।

 

हाई ब्लडप्रेशर और शुगर भी अनियंत्रित रहा। तमाम प्रयास के बाद भी उन्हें बचाया नहीं जा सका। कोरोना प्रोटोकॉल के तहत शव को पैक करके परिजनों को सौंपा गया है।

एसजीपीजीआई के निदेशक प्रोफ़ेसर आरके धीमान ने बताया कि इलाज के दौरान एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया व एम्स चंडीगढ़ के विशेषज्ञों से भी सलाह मशविरा किया गया। उन्हें कई तरह की थेरेपी भी दी गई लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका।

जीएमपीआई के निदेशक प्रोफेसर आरके धीमान ने बताया कि प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमल रानी वरुण के इलाज में लगी टीम ने निरंतर प्रयास किया लेकिन फेफड़े का संक्रमण बढ़ गया है।

कोरोनावायरस की चपेट में आने के बाद कमल रानी को कैंसरपीआई के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था। जहां उन्हें सप्ताह भर से ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया था।

यूपी की काउंट मंत्री कमल रानी वरुण का रविवार को बोर्डपीआई में निधन हो गया है। वह लगभग साढ़े नौ बजे अंतिम सांस ली। कोरोना की चपेट में आने के बाद 18 जुलाई को उन्हें आरपीआई में भर्ती कराया गया था।

कमल रानी की मौत की जानकारी मिलते ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अयोध्या दौरे निरस्त कर दिया है। सरकार ने एक दिन का राजकीय अवकाश घोषित किया है।

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!