Breaking News

मांकड़िंग करने वाला गेंदबाज आउट हुआ तो उड़ाया गया मजाक

Loading...
क्रिकेट में आउट करने का मांकड़िंग (Mankading) (गेंद डालने से पहले नॉन स्‍ट्राइकर बल्‍लेबाज के क्रीज से बाहर निकलने पर आउट करना) उपाय हमेशा से विवादों में रहा है  अब मांकड़िंग एक बार फिर से खबरों में है विजय हजारे ट्रॉफी (Vijay Hazare Trophy) में सोमवार को रेलवे (Railway)  बंगाल (Bengal) के बीच मुकाबले में एक बार फिर से गेंदबाज ने इस ढंग से बल्‍लेबाज को आउट किया  फिर से टकराव हो गया जब भी गेंदबाज इस तरह से किसी बल्‍लेबाज का आउट करता है तो खेल भावना की दुहाई दी जाती है क्रिकेट के नियमों में मांकड़िंग (Mankading) करना वैध है  इसे मान्‍यता मिली है फिर भी इस तरह की घटना होने पर टकराव हो जाता है इस वर्ष आईपीएल (IPL) में किंग्‍स इलेवन पंजाब के कप्‍तान आर अश्विन (R Ashwin) ने राजस्‍थान रॉयल्‍स के बल्‍लेबाज जोस बटलर (Jos Butler) को इसी तरह आउट किया था  बहुत ज्यादा बवाल हुआ था

जयपुर के सवाई मान सिंह स्‍टेडियम में खेले गए मैच में रेलवे के बाएं हाथ के स्पिनर हर्ष त्‍यागी (Harsh Tyagi) ने बंगाल के बल्‍लेबाज अग्निव पन (Agniv Pan) को गेंद डालने से पहले ही क्रीज से बाहर निकलते देखा तो स्‍टंप्‍स पर लगी बेल्‍स गिरा दीं अंपायर ने अग्निव को बाहर पाया  उन्‍हें आउट करार दिया यह घटना बंगाल की पारी के 36वें ओवर में हुई इस घटना से बंगाल के खेमे में हलचल मच गई  उसकी ओर से रिएक्शन भी दी गई

जब रेलवे की बल्‍लेबाजी आई  8वें नंबर पर बैटिंग करने आए हर्ष त्‍यागी आउट हुए तो बंगाल के सपोर्ट स्‍टाफ ने भी बहुत ज्यादा खुशी जताई त्‍यागी के आउट होने पर खुशी मनाते हुए शोर मचाया गया  जब तक रेलवे का बल्‍लेबाज ड्रेसिंग रूम तक नहीं पहुंचा तब तक जश्‍न मना  उनका बहुत ज्यादा मजाक बनाया गया

दोनों टीमों के कोच ने मांकड़िंग को बताया गलत
बंगाल के कोच अरुण लाल (Arun Lal) ने मांकड़िंग पर सवाल उठाए  इसे खेल के लिए बुरा बताया उन्‍होंने स्‍पोर्टस्‍टार से कहा, ‘यह क्रिकेट  रेलवे जैसे संगठन के लिए बुरा है क्रिकेट भावना के विरूद्ध जाकर ऐसी हरकतें नहीं करनी चाहिए ‘ वहीं रेलवे के कोच युसुफ अली खान ने भी इस तरह से आउट किए जाने की पैरवी नहीं की उन्‍होंने बोला कि यह क्रिकेट के लिए ठीक नहीं है

टाई रहा मैच

रेलवे  बंगाल के बीच मुकाबला टाई रहा था पहले खेलते हुए बंगाल ने ओपनर श्रीवत्‍स गोस्‍वामी (56)  अभिषेक रमन (42) की उपयोगी पारियों के वश 223 रन बनाए इसके जवाब में रेलवे की टीम सलामी बल्‍लेबाज प्रथम सिंह (91)  एमएच देवधर (47) के अहम सहयोग के बावजूद निर्धारित 50 ओवर में 223 रन पर सिमट गई

Loading...
Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!