Sunday , December 8 2019 0:19
Breaking News

संभोग के दौरान जानिये इन चार तरह के ऑर्गैज़्म में आपकी महिला पार्टनर का कौनसा है मनपसंद

शादीशुदा ज़िंदगी में संभोग टॉनिक की तरह कार्य करता है, पर आज भी बहुत-सी महिलाएं संभोग को अपने पार्टनर के प्रति दायित्व मात्र समझकर उनकी ख़ुशी के लिए करती हैं, जबकि संभोग या सेक्स का अर्थ होता है, दोनों का समान रूप से भोग करना इससे आपको स्पष्ट हो गया होगा कि सेक्स में आपकी ख़ुशी कितनी मनाये रखती है इसलिए अब से संभोग को सिर्फ़ पत्नी का कर्तव्य समझकर न निभाएं, बल्कि इससे मिलनेवाले सुख से अपने दांपत्य ज़िंदगी को  ख़ुशहाल बनाएं आपको शायद पता न हो कि स्त्रियों को होनेवाला ऑर्गैज़्म दरअसल चार तरह का होता है इसमें से आपको कौन-सा ऑर्गैज़्म होता है, आइए देखें

  1. क्लिटोरल ऑर्गैज़्म

महिलाओं के लिए यह बेस्ट ऑर्गैज़्म माना जाता है स्त्रियों की क्लिटोरिस काफ़ी सेंसिटिव होती है, क्योंकि शरीर की बहुत-सी मांसपेशियां इससे जुड़ी होती हैं इसमें ज़रा-सी भी उत्तेजना स्त्रियों को असीम सुख की प्रप्ति कराती है उंगलियों से या फिर जीभ से अगर इसे थोड़ी देर रगड़ें, तो स्त्रियों को क्लिटोरल ऑर्गैज़्म का अनुभव होता है

  1. जी-स्पॉट ऑर्गैज़्म

बहुत-से लोगों के लिए यह आज भी बहस का विषय है कि जी स्पॉट होता है या नहीं इसका समर्थन करनेवालों के अनुसार, जिन्होंने इसका अनुभव किया है, वो इसके अस्तित्व को कभी नकार नहीं सकते ऐसा माना जाता है कि क्लिटोरिस के नीचे के हिस्से में जी-स्पॉट होता है, जिसके स्टिमुलेट होने पर स्त्रियों को ऑर्गैज़्म का अनुभव होता है यह ऑर्गैज़्म क्लिटोरल ऑर्गैज़्म से ज़्यादा संतोषजनक  ख़ुशी प्रदान करनेवाला होता है

यह भी  

  1. ब्लेंडेड ऑर्गैज़्म

जैसा कि इसके नाम से ही पता चलता है, यह दो ऑर्गैज़्म का मिलावट है यानी इसमें क्लिटोरियल ऑर्गैज़्म  जी-स्पॉट ऑर्गैज़्म दोनों का अनुभव एक साथ होता है इसके लिए आपको वेजाइना के भीतरी  बाहरी दोनों हिस्सों को एक साथ स्टिमुलेट करना होता है हालांकि यह इतना सरल नहीं, पर यक़ीनन इससे मिलनेवाला दोगुना आपको एक बार इसके लिए संघर्ष करने के लिए ज़रूर प्रोत्साहित करेगा

  1. मल्टीपल ऑर्गैज़्म

जी हां, प्रकृति ने स्त्रियों को वरदान में मल्टीपल ऑर्गैज़्म का सुख दिया है, जो पुरुषों के पास नहीं हालांकि इसका अनुभव बहुत कम महिलाएं कर पाती हैं, क्योंकि यह आपके पार्टनर की क्षमता पर निर्भर करता है पहले ऑर्गैज़्म के बाद अगर आप दोनों दोबारा क्लाइमेक्स तक जाने की प्रयास करते हैं, तो इसकी आसार बढ़ जाती है अपनी पार्टनर की ख़ुशी के लिए पुरुषों को इसे ज़रूर टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ़ इंडिया करना चाहिए किसी ख़ास मौ़के पर भी आप अपनी पार्टनर को ज्यादा ख़ुशी देने के लिए ऐसा कर सकते हैं

Share & Get Rs.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!