Tuesday , September 22 2020 1:06
Breaking News

अर्थराइटिस की समस्या को दूर करने के लिए रोजाना खाए ये…

पनीर में उपलब्ध प्रचुर मात्रा में ओमेगा -3 फैटी एसिड हड्डियों को न केवल मजबूत बनाता है बल्कि अर्थराइटिस की रोकथाम में भी सहायक है।

पनीर मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत है। यह शरीर में विभिन्न एंजाइमों को सक्रिय करता है। इसके अलावा यह नर्वस सिस्टम और इम्यून सिस्टम को भी सशक्त बनाता है।

पनीर में पाया जाने वाला कैल्शियम और फॉस्फोरस गर्भवती महिलाओं और बच्चों के संपूर्ण शारीरिक और मानसिक विकास के लिए भी लाभदायक है।

पनीर में मौजूद प्रोटीन की मात्रा शाकाहारियों के लिए बहुत अच्छी है। ऐसा इसलिए, क्योंकि शाकाहारियों को दैनिक प्रोटीन की आवश्यक मात्रा की आपूर्ति पनीर से हो जाती है।

आजकल पनीर खाना हर कोई पसंद करता है। पनीर सब्जी और पनीर के पकौड़े के रूप भी लिया जाता है। पनीर में भरपूर मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है। बाल्यावस्था में पनीर को भोजन में अनिवार्य रूप से शामिल करने से बच्चों का शारीरिक और मानसिक विकास अच्छी तरह से होता है।

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!