​पवनमुक्तासन करने से दूर होती है ये परेशानी

Share & Get Rs.

‘पेट अच्छा तो दिन अच्छा’- ये कहावत तो आपने कई बार सुनी होगी लेकिन वहीं अगर ये पेट अच्छा न हो, तो इसका असर न सिर्फ आपके पेट पर बल्कि आपके मूड पर भी पड़ने लगता है। जी हां, कब्ज ऐसी ही पेट से जुड़ी एक समस्या का नाम है। कब्ज की समस्या तब होती है, जब व्यक्ति को अपनी बड़ी आंत को खाली करने में कठिनाई आती है।

इस समस्या की वजह से व्यक्ति को कई अन्य रोग भी घेर सकते हैं। अक्सर लोग कब्ज से राहत पाने के लिए दवा या कोई चूरन खा लेते हैं। लेकिन यह इलाज कुछ समय के लिए ही अपना असर बनाए रखता है और कब्ज की समस्या दोबारा व्यक्ति को परेशान करने लगती है। अगर आपको भी कब्ज की दिक्कत रहती हैं तो ये योगासन आपकी मदद कर सकते हैं। आइए जानते हैं इनके बारे में।

कॉन्स्टिपेशन यानि कब्ज को जड़ से खत्म करने के लिए करें ये योगासन-
​पवनमुक्तासन-

यह आसन पेट के पाचन तंत्र में बन रही अनावश्यक गैस को बाहर निकालने में बहुत सहायक है। अच्छे पाचन के लिए यह आसन बेस्ट है। खराब पाचन से पीडि़त मरीजों को अक्सर पवनमुक्तासन करने की सलाह दी जाती है।

भुजंगासन-
पाचन तंत्र के कार्य में सुधार के लिए कोबरा पोज या भुजंगासन को प्रभावी और फायदेमंद माना जाता है। यह योगासन पेट की मांसपेशियों को मजबूत करता है और पूरे पाचन तंत्र को साफ करने में सहायक है। कब्ज और अपच की समस्या को दूर करने के लिए रोजाना इसका अभ्यास करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

अर्ध चक्रासन-
कब्ज को चुटकियों में दूर करने के लिए ये आसन बहुत अच्छा माना जाता है। इस आसन को करने के दौरान शरीर की स्थिति आधे पहिये के जैसी होती है। इसलिए इसे अर्धचक्रासन कहते हैं। कब्ज के अलावा ये डायबिटीज और पेट की चर्बी कम करने में भी फायदेमंद है।

Share & Get Rs.