Sunday , September 27 2020 3:52
Breaking News

राम मंदिर को लेकर सामने आई ये नई खबर, होने जा रहा…

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा था कि मंदिर स्थल से मिले अवशेषों के श्रद्धालु दर्शन कर सके, ऐसी व्यवस्था भी की जा रही है, मंदिर निर्माण में पत्थरों का उपयोग होगा।

 

पत्थरों की आयु के हिसाब से ही मंदिर की एक हजार वर्ष आयु का आकलन किया गया है निर्माण कंपनी लार्सन एंड टूब्रो ने योग्यतम लोगों को अपने साथ जोड़ा है।

श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय ने कहा था कि मंदिर की आयु कम से कम एक हजार वर्ष होगी। लार्सन एंड टूब्रो कंपनी, आईआईटी के इंजीनियरों की निर्माण कार्य में मदद ली जा रही है।

गौरतलब है कि अयोध्या में भगवान राम का मंदिर 36 से 40 महीने में बनकर तैयार हो सकता है, मंदिर निर्माण में एक ग्राम भी लोहे का प्रयोग नहीं होगा।

274110 वर्ग मीटर ओपन एरिया और करीब 13000 वर्ग मीटर कवर्ड एरिया का नक्शा पास किया गया है, 13000 वर्ग मीटर कवर्ड एरिया में राम मंदिर बनेगा।

अयोध्या में बन रहे श्रीराम जन्मभूमि मंदिर का नक्शा आज पास कर दिया। अयोध्या विकास प्राधिकरण बोर्ड की बैठक में सर्वसम्मति से नक्शे को पास कर दिया गया ।

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!