Breaking News

यहाँ पुरुषों के इन गंदे कारनामों की वजह से लड़कियों और महिलाओं को हो गई सम्बन्ध बनाने से नफरत

Loading...

ऐसे ही एक महिला का कहना था कि ग्राहक वहाँ आकर एक ग्लास में पेशाब करवाता था, इसके बाद वह इसके लिए 13 हजार रूपये भी देता था।इस औषधि को अनेक रूप में सेवन कर सकते है|

अश्वगंधा की जड़ का प्रयोग चूर्ण, पाक, क्वाथ, कैप्सूल आदि प्रकार से कर सकते है .राजस्थान में नागौरी असगंध के रूप में प्रसिद्ध है| इसके अलावा मध्यप्रदेश, पंजाब, नेपाल मे इसकी खेती भी की जाती है| पंसारी के पास भी आसानी से मिल जाता है|

Loading...

शारीरिक कमज़ोरी को दूर करने के लिए इसका 5 ग्राम चूर्ण सुबह-शाम दूध के साथ लें| मानसिक तनाव दूर करने के लिए अश्वगंधा के कैप्सूल का सेवन कर सकते है| बूढ़े लोगों के घुटनों के दर्द में भी बहुत सहायक है| जवान और कमजोर पुरुष इसके साथ शतावरी और सफ़ेद मूसली का चूर्ण मिला कर सेवन कर सकते है|

हमारे देश में आज भी वैश्यवृत्ति को सही नहीं माना जाता है और इन इलाको में रहने वाली महिलाओं या लड़कियों को भी ठीक नजर से नहीं देखा जाता है। लेकिन इसके बावजूद भी कई महानुभाव अपनी तन्हाइयोँ को मिटाने के लिए अक्सर इन जगहों का रुख कर लेते है।

कस्टमर की डिमांड्स:

जैसे एक व्यक्ति के बारे में बताते हुए महिला सेक्स वर्कर का कहना था कि एक ग्राहक उसके पास सेक्स के लिए आता था। लेकिन वह उसे सारे कपड़े उतारने के लिए कहता और बहुत समय तक उसे देखता ही रहता था।

ऐसे ही एक महिला का कहना था कि ग्राहक वहाँ आकर एक ग्लास में पेशाब करवाता था, इसके बाद वह इसके लिए 13 हजार रूपये भी देता था।

किसी ने बताया कि एक ग्राहक सिर्फ अनेचुरल सेक्स को लेकर डिमांडिंग था, इसके लिए वह बहुत अधिक पैसा भी देता था।

एक महिला वर्कर ने बताया कि एक ग्राहक ऐसा था जो करीब 7 लड़कियों को नग्न अवस्था में कमरे में बुलाता था और उन सबके बीच में खड़ा होकर हस्तमैथुन करने लग जाता था।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!