Sunday , September 27 2020 2:02
Breaking News

कालसर्प दोष को दूर करने के लिए करे ये उपाय

सर्वपितृ अमावस्या पर विधि-विधान से नवनाग स्त्रोत का पाठ करें या किसी योग्य पंडित से करवाएं। श्राद्ध पक्ष में रोज किसी पवित्र नदी में स्नान करें और जरूरतमंदों को आवश्यक चीजों का दान करें।

 

श्राद्ध पक्ष में प्रतिदिन सर्प सूक्त का पाठ करें और शिवलिंग के साथ नागदेवता की भी पूजा करें।  श्राद्ध पक्ष की अमावस्या पर किसी योग्य पंडित से कालसर्प दोष निवारण के लिए पूजा करवाएं।

सर्वपितृ अमावस्या (17 सितंबर) पर जल से शिवलिंग का अभिषेक करें व शांति पाठ भी करें।  सर्वपितृ अमावस्या (17 सितंबर) पर जल से शिवलिंग का अभिषेक करें व शांति पाठ भी करें।

श्राद्ध पक्ष की चतुर्दशी तिथि (16 सितंबर) को उपवास रखें और चांदी से बने नाग-नागिन का जोड़ा नदी में बहाएं  श्राद्ध पक्ष में किसी भी दिन अष्टधातु या कांसे से बना नाग शिवलिंग पर चढ़ाएं व काल सर्प दोष के निवारण के लिए प्रार्थना करें।

कालसर्प दोष जिस व्यक्ति की कुंडली में होता है, उसे अपने जीवन में कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कुछ साधारण उपाय कर इस दोष के बुरे प्रभाव को कम किया जा सकता है।

ये उपाय यदि किसी खास समय पर किए जाएं तो और भी जल्दी शुभ फल प्राप्त होते हैं। श्राद्ध पक्ष में भी कालसर्प दोष के उपाय किए जा सकते हैं। इस बार 17 सितंबर तक श्राद्ध पक्ष में आप भी ये उपाय कर सकते हैं…

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!