Saturday , November 23 2019 3:14
Breaking News

प्रातः काल नाश्ते में दलिया खाने से कम होगा इस बिमारी का खतरा

Loading...

भारत में आर्थराइटिस के मरीजों की संख्या करीब 15 करोड़ है. आर्थराइटिस के करीब 100 प्रकार हैं लेकिन इनमें मुख्य रूप आस्ट्रियो आर्थराइटिस, रूमेटाइड व गाऊट आर्थराइटिस की समस्या सबसे अधिक देखने को मिलती है.

युवाओं में आर्थराइटिस की समस्या स्टेरॉइड्स, कृत्रिम सप्लीमेंट व जंक फूड ज्यादा खाने के कारण हो रही है. इसके अतिरिक्त गलत ढंग से अभ्यास भी बड़ी वजह है.

Loading...

मौसमी फल जिनमें सिट्रस एसिड होता है जैसे नींबू, संतरा, मौसमी, चकोतरा आदि खाने चाहिए. ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट्स वाला पॉलीफिनाल्स होता है. इससे गठिया का प्रभाव घटता है.

प्रातः काल नाश्ते में दलिया खाने से कोलेस्ट्रॉल कम होता है. लहसुन की 5-6 कलिया प्रतिदिन खाने से गठिया में होने वाली सूजन कम होती है. आर्थराइटिस के रोगी में खून की कमी होती है इसलिए पालक, चुकंदर आदि आयरन रिच डाइट लेनी चाहिए.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!