Breaking News

नवजात शिशु को सर्दियों में नहलाते वक़्त इन बातो जरुर रखे ध्यान

Loading...

सर्दी के मौसम में नवजात शिशु को अलावा देखभाल की आवश्यकता होती है. माता-पिता इस मौसम में सबसे ज्यादा उसे नहलाने को लेकर चिंतित दिखते हैं. ऐसे में ठंड के कारण बच्चे को संक्रमण की संभावना रहती है. जिस कारण वे इस असमंजस में रहते हैं कि बच्चे को नहलाएं या नहीं. जानते हैं कि सर्दियों में बच्चे को नहलाना चाहिए या नहीं ( How To Bathe A Baby )-

गुनगुने पानी से नहलाएं ( Hot Water Bath Good For Newborn )
अधिकांश माता-पिता बच्चे को प्रतिदिन नहलाते हैं. लेकिन इससे कोई फर्क नहीं पड़ता, यदि उसे छूते, खिलाते-पिलाते या टॉयलेट और स्टूल कराने के बाद साफ-सफाई न रखी जाए तो परेशानी बढ़ती है. 2-3 दिन के गैप से उसे नहलाएं. अधिक ठंड है तो सूती और मुलायम कपड़ा गुनगुने पानी में भिगोकर उसका शरीर पोंछ सकते हैं.

Loading...

जैतून के ऑयल से करें मालिश ( Olive Oil Massage )
नमी बरकरार रखने के लिए  रूखेपन से बचाव के लिए केमिकलयुक्त प्रोडक्ट जैसे क्रीम या मॉइश्चराइजर के बजाय स्कीन पर नहलाने के बाद जैतून या नारियल ऑयल लगाएं. जैतून के ऑयल ( Olive Oil ) की मालिश शिशुओं की वृद्धि  नींद को बढ़ाने में लाभकारी हाेती है.इस ऑयल की मालिश बच्चाें की स्कीन की टोन में सुधार करने से लेकर उनकी स्कीन के लिए अच्छे मॉइस्चराइजर के ताैर पर भी कार्य करता है.

नारियल ऑयल की मालिश ( Coconut Oil Massage )
फैटी एसिड  प्रोटीन से भरपूर नारियल का ऑयल शिशु की स्कीन का पोषण करने के साथ धीरे-धीरे मॉइस्चराइज करता है. कुछ अध्ययनों से पता चला है कि जब नारियल का ऑयल बाहरी रूप से लगाया जाता है तो हाइड्रेशन बढ़ने  तवचा में नमी बनाए रखने के लिए उपयाेगी हाेता है.

पूरी तैयारी रखें
जब भी शिशु को नहलाने जा रहे हैं तो उससे जुड़ी सभी तैयारी रखें. जैसे पास में उसके सभी कपड़े, वुलन सहित तौलिया आदि. ताकि नहलाने के तुरंत बाद शिशु के शरीर को पूरी तरह से ढक सकें. स्कीन पर रेशेज से बचने के लिए उसे नहलाने के बाद पहली परत सूती कपड़ों की पहनाएं.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!