Friday , December 13 2019 18:11
Breaking News

पिथौरागढ़ जिले में बादल फटने से हुई भारी तबाही, बना हुआ दर्जन भर से अधिक घरों पर खतरा

पिथौरागढ़ जिले में बादल फटने (Cloudburst) से भारी तबाही हुई है. टिमटिया इलाके में एक घर में भारी मात्रा में बहकर आए मलबे (Debris) के नीचे दबने से एक व्यक्ति की मौत हो गई जबकि 3 लोग घायल हो गए हैं. जिले के बांसबगड़, नाचनी और सिमगड़ में भारी नुकसान हुआ है.

बादल फटने से सिमगड़ इलाके में दर्जन भर से अधिक मकान खतरे (Danger to Buildings) की जद में आ गए हैं. यहां भुजगड़ नदी (Bhujgad River) उफान पर है, जिस कारण नदी से सटे दर्जन भर से अधिक घरों पर खतरा बना हुआ है. आपदा प्रभावित क्षेत्र को जोड़ने वाला मोटरमार्ग जिला मुख्यालय और तहसील मुख्यालय मुनस्यारी (Munasyari) से कई जगहों पर कट गया है. इस वजह से प्रभावित हुए लोगों तक मदद पहुंचाने में दिक्कत आ रही है.

एसडीआरएफ (SDRF) और एनडीआरएफ (NDRF) की टीमें मौके पर मौजूद हैं और राहत कार्य (Relief Work) जारी है. मुनस्यारी और डीडीहाट तहसील प्रशासन की टीमें भी आपदा राहत कार्य में जुटी हुई हैं. डीएम ने मुख्यालय से भी बचाव दलों (Rescue Team) को घटनास्थल की ओर रवाना किया है. घायलों के इलाज के लिए स्वास्थ्य विभाग (Health Department) की टीम भी रवाना हो गई है.

चमोली (Chamoli) में भी बादल फटने से भारी नुकसान हुआ है. यहां गोविंदघाट और थराली में बादल फटने की घटनाएं हुई हैं. थराली में एक महिला बुरी तरह घायल हुई है जिसे रेस्क्यू (Rescue) कर इलाज के लिए अस्पताल में दाखिल करा दिया गया है. गोविंदघाट में गाड़ियों के दबने के साथ ही दो गोशालाएं मलबे में दब गई हैं. यहां बादल फटने की घटना के बाद से अफरातफरी का माहौल है.

Share & Get Rs.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!