Breaking News

हिंदुस्तान की सेना ने बोला कि अगला युद्ध शुद्ध देसी हथियारों से जाएगा जीता

Loading...

हिंदुस्तान के सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत (Bipin Rawat) ने DRDO डायरेक्टर्स कॉन्फ्रेंस में बोला कि अगला युद्ध शुद्ध देसी हथियारों से जीता जाएगा DRDO के डायरेक्टर्स की कॉन्फ्रेंस में जनरल बिपिन रावत ने बयान दिया है कि DRDO द्वारा विकसित हथियार पाक के लिए काफ़ी हैं

Confrontation between India and Pakistan

थल सेना अध्यक्ष के दावे की तस्दीक वायु सेना अध्यक्ष भी करते हैं वायु सेना अध्यक्ष के मुताबिक स्टेल्थ विमान युद्ध की रूपरेखा बदल देंगे ये स्टेल्थ विमान जिन्हें AMCA यानी Advanced Medium Combat Aircraft कहते हैं Hindustan Aeronautics Limited  Aeronautical Development Agency मिलकर ये विमान बना रहे हैं

Loading...

एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया ने कुछ दिनों पहले पदभार संभालते ही बोला था कि भविष्य में लड़े जाने वाले किसी भी युद्ध का नतीजा आसमान में तय होगा  आसमान में वही टिकेगा जो तकनीकी रूप से नंबर 1 होगा  हिंदुस्तान उस पायदान पर अपने कदम जमा चुका है खुद रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath singh) ने बोला था कि कायर पाक के लिए स्वदेशी हथियार ही काफ़ी हैं

राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोवल भी कह चुके हैं कि शुद्ध स्वदेशी स्टेल्थ विमान AMCA को आसमान का सिकंदर बनने में कुछ वक्त बाकी है लेकिन हिन्दुस्तान के 5 स्वदेशी ब्रह्मास्त्र ऐसे हैं जो पाक के आतंकवादी खेल को ख़त्म करने के लिए पर्याप्त हैं

अब आपको हिन्दुस्तान के 5 शुद्ध स्वदेशी ब्रह्मास्त्र के दर्शन कराते हैं सबसे पहले तेजस का ‘तेज’ है तेजस की गति 2000 Km/h से ज़्यादा है हवा से हवा, आसमान से ज़मीन  एंटी शिप मिसाइल से लैस है तेजस50000 फीट की ऊंचाई तक उड़ सकता है सबसे हल्का लड़ाकू विमान है  3.5 टन विस्फोटक लेकर उड़ सकता है अमेरिकन हो या रूसी, हर तरह की मिसाइल दाग़ सकता है

नेत्र हवा में उड़ते हुए सैंकड़ों किलोमीटर दूर तक दुश्मनों पर नजर रखनेवाले इस विमान को Airborne Early Warning and Control System यानी अवॉक्स कहते हैं राडार  इलेक्ट्रॉनिक WARFARE के उपकरणों से लैस ये विमान 300 किलोमीटर दूर से शत्रुओं के विमानों का पता लगा लेता है अवॉक्स विमान हवा में उपस्थित 60 लक्ष्यों पर एकसाथ नजर रख सकता है

अस्त्र हवा से हवा में मार करने वाली मिसाइल है बिना सामने आए अस्त्र शत्रु को निशाना बनाती है 70 किमी दूर से शत्रु के विमान को मार गिराने की क्षमता है किसी भी मौसम में प्रयोग की जा सकती है

आकाश मिसाइल: ध्वनि की स्पीड से साढ़े 3 गुना तेज़ी से शत्रु को तबाह कर सकती है आकाश मिसाइल में एक स्पेशल रडार सिस्टम लगाया गया है एक साथ दुश्मनों के 40 टारगेट्स को ट्रैक कर सकती है सतह से हवा में 30 KM की दूरी पर टारगेट को बर्बाद कर सकती है

अर्जुन टैंक में 120 MM की राइफल्ड गन लगी है यानी इससे दाग़ा गया गोला रामवाण साबित होगा इस कैलिबर की राइफल्ड गन सिर्फ़ ब्रिटेन के चैलेंजर टैंक में ही लगी है अर्जुन टैंक अपनी मेन गन से ही मिसाइल दाग़ सकता है

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!