Wednesday , September 23 2020 21:18
Breaking News

चीन को इस देश ने दिया पहला जवाब, रातो होने का कर रहे इंतज़ार

हाल में यूरोपियन यूनियन ने भी ताइवान को चीन का हिस्सा नहीं मानने की बात कही. वहीं ताइवान ने भी अभी नया पासपोर्ट कवर जारी किया है. इसपर ‘रिपब्लिक ऑफ चाइना’ नहीं लिखा है. ताइवान के इस कदम से भी चीन काफी असहज है.

बता दें कि चीन और ताइवान के बीच विवाद काफी पुराना है. चीन ताइवान को अबतक एक ऐसी जगह की तरह देखता है जो उससे अलग हो गई है और भविष्य में उसी का हिस्सा होगी.

जबकि ताइवान की बड़ी आबादी खुद को अलग देश के रूप में देखती है. चीन ने ताइवान को स्वायत्ता देने का प्रस्ताव भी दिया था, जिसे ताइवान ने ठुकरा दिया था. पिछले कुछ सालों में ताइवान खुले तौर पर चीन का विरोध कर रहा है.

ताइवान के सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर दावा किया जा रहा था कि देश के एयर डिफेंस सिस्टम ने चीन के सुखोई Su-35 फाइटर प्लेन को मार गिराया है.

बताया जा रहा था कि ये विमान दक्षिण चीन सागर में ताइवान स्ट्रैट में घुसने के बाद मार गिराया गया. सोशल मीडिया पर विमान के धुएं के गुबार में तब्दील होने के वीडियो भी शेयर किए जा रहे थे.

हालांकि डेली टेलिग्राफ की एशिया से जुड़े मामलों को देखने वाली वरिष्ठ पत्रकार ने ताइवान के रक्षा मंत्रालय के हवाले से बताया कि ये दावे फर्जी हैं.

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!