Thursday , April 15 2021 19:15
Breaking News

सिंघु बॉर्डर पर किसानों ने भरी हुंकार, सुबह 11 से होगा ये…

केंद्रीय ट्रेड यूनियनों के आह्वान पर 15 मार्च 2021 को ‘निजीकरण विरोधी दिवस’ का समर्थन करते हुए सयुंक्त किसान मोर्चा द्वारा विरोध प्रदर्शन किए जाएंगे. एसकेएम इस दिन को ‘कॉरपोरेट विरोधी’ दिवस के रूप में देखते हुए ट्रेड यूनियनों के इस आह्वान का समर्थन करेगा और एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन किया जाएगा.

 

जिन राज्यों में अभी चुनाव होने वाले हैं, उन राज्यो में SKM भारतीय जनता पार्टी (BJP) की किसान-विरोधी, गरीब-विरोधी नीतियों को दंडित करने के लिए जनता को एक अपील करेगा. एसकेएम के प्रतिनिधि भी इस उद्देश्य के लिए इन राज्यों का दौरा करेंगे और विभिन्न कार्यक्रमों में भाग लेंगे.

अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस 8 मार्च के दिन संयुक्त किसान मोर्चा महिला किसान दिवस के रूप में मनाएगा. देश भर के सभी सयुंक्त किसान मोर्चे के धरना स्थल पर 8 मार्च को महिलाओं द्वारा संचालित होंगे. इस दिन महिलाएं ही मंच प्रबंधन करेंगी और वक्ता होंगी.

किसान मोर्चा ने बताया कि देशभर में आंदोलन को समर्थन के लिए और सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन करने के लिए घरों और कार्यालयों पर काले झंडे लहराए जाएंगे. संयुक्त किसान मोर्चा ने प्रदर्शनकारियों को उस दिन काली पट्टी बांधने के लिए भी आह्वान किया है.

संयुक्त किसान मोर्चा की आज सिंघु बॉर्डर पर एक बैठक हुई. इस बैठक में किसान मोर्चा ने आंदोलन की आगे की रणनीति तय की. 6 मार्च 2021 को दिल्ली बोर्डर पर विरोध प्रदर्शन शुरू होने के 100 दिन हो जाएंगे.

इस दिन दिल्ली और दिल्ली बोर्डर्स के विभिन्न विरोध स्थलों को जोड़ने वाले केएमपी एक्सप्रेसवे पर पांच घंटे की नाकाबंदी होगी ये सुबह 11 से शाम 4 बजे के बीच जाम किया जाएगा. यहां टोल प्लाजा को टोल फीस जमा करने से भी मुक्त किया जाएगा.

 

 

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Vision 4 News content is protected !!