Breaking News

रोहित शर्मा ने इस क्रिकेटर को लेकर किया बड़ा खुलासा, कहा :’मैदान में उतरने से पहले टोटका…’

Loading...

भारत  दक्षिण अफ्रीका के बीच कल यानी 15 सितंबर से टी20 सीरीज प्रारम्भ होने वाली है. सीरीज का पहला मुकाबला धर्मशाला के हिमाचल प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम पर खेला जाना है. दोनों टीमें अपना जौहर दिखाने के लिए धर्मशाला पहुंच चुकी हैं. टीम इंडिया हाल ही में वेस्टइंडीज में 3-0 से टी20 सीरीज कर आई है. उसके हौसले बुलंद हैं. दक्षिण अफ्रीका करीब 6 महीने बाद कोई टी20 मैच खेलेगी. आईसीसी वनडे वर्ल्ड कप में भी उसका कोई खास प्रदर्शन नहीं रहा था. ऐसे में जाहिर है हिंदुस्तान के मुकाबले उसके खिलाड़ियों का मनोबल भी कम होगा.

टी20 सीरीज में हिंदुस्तान की ओर से ओपनिंग की जिम्मेदारी रोहित शर्मा  शिखर धवन के कंधों पर होगी. सीमित ओवरों के फॉर्मेट में रोहित  शिखर की जोड़ी संसार की सफलतम पार्टनरशिप मानी जाती है. वे मैदान के बाहर भी अच्छे दोस्त हैं. दोनों ओपनिंग करते हुए कई रिकॉर्ड अपने नाम कर चुके हैं. अक्सर सुनने में आता है कि क्रिकेटर या यूं कहें खिलाड़ी खुद को पास करने के लिए कोई न कोई टोटका भी प्रयोग करते हैं. बहुत कम लोगों को यह जानकारी होगी कि कुछ ऐसा ही यह जोड़ी भी करती है. एक टॉक शो के दौरान रोहित शर्मा ने खुद इस बात को कबूला.

Loading...

कुछ दिन पहले रोहित शर्मा  शिखर धवन गौरव कपूर के शो ब्रेकफास्ट विद चैंपियन में पहुंचे थे. यहां उन्होंने कुछ रोचक किस्से साझा किए. बातों-बातों में रोहित ने बताया कि ओपनिंग करने के लिए जाते समय कभी हड़ताल नहीं लेते हैं. ऐसे में टीम इंडिया की आरंभ रोहित के बल्ले से ही होती है. रोहित ने बताया, ‘उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में पहली बार ओपनिंग चैंपियंस ट्रॉफी में दक्षिण अफ्रीका के विरूद्ध की थी.

रोहित ने पुरानी बातें याद करते हुए बताया, ‘मैच से एक दिन पहले महेंद्र सिंह धोनी मेरे पास आए  मुझसे बोला कि कल तुम्हें ओपन करना है. मैं हां बोल दिया. हालांकि, बाद में जब मैं अपने रूम में गया तो सोचा यह क्या कह दिया मैंने. फिर मैंने सोचा चलो अच्छा है, जो होगा देखा जाएगा. दूसरे दिन जब हम (मैं  शिखर) बैटिंग के लिए मैदान पर जाने लगा तो मैंने शिखर से पूछा कि हड़ताल तू लेगा. तो शिखर ने मना कर दिया. उसने बोला कि मैं कभी पहली गेंद नहीं खेलता. मैंने बोला कि भाई ले ले, मैं पहली बार ओपनिंग करने जा रहा हूं, लेकिन शिखर नहीं माना. उसने मैं ऐसा कभी नहीं करूंगा. हालांकि, बाद में हम दोनों ने शतकीय साझेदारी की  हमारी टीम ने 300 से ज्यादा का स्कोर किया  हम वह मैच जीत गए.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!