Saturday , December 7 2019 16:39
Breaking News

देहरादून के इस क्षेत्र में पहली बार पहुंची सड़क, ग्रामीणों ने मनाया जोरदार तरीके से जश्न

देहरादून सड़क सुविधा से वंचित चकराता ब्लॉक के सुदूरवर्ती बोंदूर क्षेत्र के कांडी गांव में पहली बार सड़क पहुंचने की खुशी में ग्रामीणों ने जोरदार तरीके से जश्न मनाया। लोगों ने सड़क निर्माण में अहम भूमिका निभाने वाली सामाजिक संस्था जौनसार-बावर क्षेत्र विकास समिति लाखामंडल के अध्यक्ष का रविवार को मोटर गाड़ी से गांव पहुंचने पर ढ़ोल-दमोऊ से परपंरागत अंदाज में स्वागत किया।

लाखामंडल से सटे बोंदूर क्षेत्र के सुदूरवर्ती कांडी पंचायत की आबादी करीब 1200 है। सड़क की मांग को लेकर कांडी गांव के लोगों ने कई बार शासन-प्रशासन से मोटर मार्ग बनाने की मांग की पर कोई सुनवाई नहीं हुई। जिससे लोगों को गांव से मुख्य मार्ग तक आने-जाने को करीब तीन किमी की दौड़ लगानी पड़ती है। सबसे ज्यादा परेशानी गांव तक राशन और अन्य सामान लाने ले जाने की है। इसके अलावा किसी ग्रामीण के बीमार पडऩे पर उसे डंडी-कंडी के सहारे सड़क तक पहुंचाना पड़ता है।

कुछ समय पहले गांव में आयोजित एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने गए सामाजिक संस्था जौनसार-बावर क्षेत्र विकास समिति लाखामंडल के अध्यक्ष गीताराम गौड़ के सामने लोगों ने सड़क निर्माण की मांग रखी। पिछले डेढ़ दशक से सामाजिक कार्य व लोक संस्कृति के हित में प्रयासरत जौनसार-बावर क्षेत्र विकास समिति लाखामंडल के अध्यक्ष एवं भाजपा जनजाति मोर्चा के प्रदेश महामंत्री गीताराम गौड़ ने संस्था के खर्चे से लाखामंडल-चकराता मार्ग से बोंदूर खत के कांडी गांव तक जेसीबी से सड़क का निर्माण कर ग्रामीणों को खुशियों की बड़ी सौगात दी।

संस्था अध्यक्ष ने कहा कि करीब डेढ़ किमी. लंबे कांडी मोटर मार्ग निर्माण कार्य में करीब पांच लाख का खर्चा आया है।

जिसे संस्था ने स्वयं के संसाधनों से वहन किया गया है। रविवार को कांडी गांव के सड़क सुविधा से जुडऩे की खुशी में लोगों ने देर शाम तक पंचायती आंगन में तांदी-नृत्य कर जश्न मनाया। ग्रामीणों ने कहा संस्था के प्रयासों से उनकी दशकों पुरानी समस्या दूर हो गई। लोगों ने जनजाति क्षेत्र के हितों की रक्षा को बेहतर कार्य कर रही सामाजिक संस्था के प्रयासों की सराहना की। इस मौके पर जीत सिंह, केशर सिंह, रतन सिंह, अरविंद, प्रलाहद शाह, महावीर सिंह, तोलाराम, खजान सिंह, जयपाल आर्य, मुकेश पंवार, खुशीराम पंवार, मोहनलाल व सुल्तान आदि मौजूद रहे।

Share & Get Rs.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!