Tuesday , September 22 2020 23:22
Breaking News

रेलवे ने किया ये बड़ा बदलाव, सालाना हो जाएगा…

लंबी दूरी की ट्रेनें 200 किलोमीटर के भीतर नहीं रुकेंगी। यदि बीच में कोई महत्वपूर्ण शहर है, तो वहां रुकना पड़ सकता है। रेलवे कुल 10,000 स्टॉप हटाएगा।

 

सभी यात्री ट्रेनें ‘हब एंड स्पोक मॉडल’ पर चलेंगी। ये हब 10 लाख से अधिक आबादी वाले शहरों में होंगे। छोटा स्टेशन नीग्रो से दूसरी ट्रेन से जुड़ जाएगा।

औसतन प्रति वर्ष 50% से कम अधिभोग वाले रेलवे को इस नेटवर्क में कोई स्थान नहीं मिलेगा। आवश्यकता पड़ने पर इस ट्रेन को अन्य ट्रेनों के साथ मिला दिया जाएगा।

इंडियन एक्सप्रेस ने एक समाचार रिपोर्ट में कहा कि ट्रेन के अनन्य गलियारों में उच्च गति पर 15% अधिक माल ले जाया जा सकता है। रेलवे का अनुमान है .

पूरे नेटवर्क की गति पर सर्विस ट्रेन की औसत गति पर 10% की बचत होगी। भारतीय रेलवे ने IIT बॉम्बे के वैज्ञानिकों के साथ मिलकर एक शून्य आधारित टाइम टेबल बनाया है।

एक मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, नए शेड्यूल से भारतीय रेलवे का राजस्व बढ़कर 1,500 करोड़ रुपये सालाना हो जाएगा। रेलवे मंत्रालय के अनुसार, शुल्कों में वृद्धि के कारण 1,500 करोड़ रुपये का राजस्व उत्पन्न होगा। इस अनुसूची को अन्य परिचालन नीतियों में बदलाव करके लागू किया जाएगा।

भारतीय रेलवे (Indian Railway) पूरी तरह से ट्रेन का शेड्यूल बदलने के लिए तैयार है। नए शेड्यूल के अनुसार, रेलवे प्रशासन अब लगभग 500 ट्रेनों को बंद करने और 10,000 स्टॉप को बंद करने की योजना बना रहा है। यह नया शेड्यूल कोरोना महामारी की समाप्ति के बाद लागू किया जाएगा, वर्तमान में कोरोना अवधि के पहले जैसा ही शेड्यूल जारी रहेगा।

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!