Monday , September 21 2020 11:03
Breaking News

राहुल गाँधी ने दिया ये बड़ा बयान, बच्चों की पढ़ाई, शादी, बुढ़ापे के लिए…

वहीं सरकारी उपक्रम के शेयर बेचे जाने पर कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, “एलआईसी कंपनी नहीं बल्कि करोड़ों लोगों का भरोसा है। सामाजिक सुरक्षा कवच है।

 

बच्चों की पढ़ाई, शादी, बुढ़ापे के लिए लोग एलआईसी में इसलिए पैसे जमा करते हैं क्योंकि उन्हें भरोसा है कि इसके साथ सरकारी गारंटी जुड़ी है। अब लोगों के मन में सवाल है कि उनकी जिंदगी भर की जमा-पूंजी का क्या होगा?”

अपने ट्वीट के साथ कांग्रेस सांसद ने एक खबर भी साझा किया है, जिसमें कहा गया है कि केंद्र सरकार एलआईसी में 25 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचेगी। इसे बेचने को लेकर ड्राफ्ट भी तैयार हो चुका है, जिसे सेबी, इरडा तथा नीति आयोग एवं अन्य मंत्रालयों को भेज भी दिया गया है।

राहुल गांधी ने सरकारी संस्थाओं के निजीकरण को लेकर सरकार पर मंगलवार को निशाना साधते हुए ट्वीट कर कहा, “मोदी जी ‘सरकारी कंपनी बेचो’ मुहिम चला रहे हैं।

खुद की बनाई आर्थिक बेहाली की भरपाई के लिए देश की संपत्ति को थोड़ा-थोड़ा करके बेचा जा रहा है। जनता के भविष्य और भरोसे को ताक पर रखकर एलआईसी को बेचना मोदी सरकार का एक और शर्मनाक प्रयास है।”

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष एवं वायनाड से सांसद राहुल गांधी घटती जीडीपी, अर्थव्यवस्था और कोरोना वायरस के हालात को लेकर लगातार केंद्र सरकार पर हमलावर रहे हैं।

ऐसे में उन्होंने एक बार फिर नीतियों को लेकर सरकार की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि जीवन बीमा निगम (एलआईसी) को बेचना मोदी सरकार का शर्मनाक प्रयास है। ऐसा लगता है वो सरकारी कंपनी बेचने की मुहिम चला रहे हैं।

 

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!