Monday , October 26 2020 9:19
Breaking News

आसमान में राफेल ने भरी उड़ान, शुरू हो सकता…, भारत की पैनी निगाहें

वायुसेना की ओर से लद्दाख सीमा पर सुखोई 30MKI, जगुआर, मिराज 2000, मिग-29 और अब राफेल लड़ाकू विमान को तैनात किया गया है. जो लगातार उड़ान भरकर चीन पर नजर बनाए हुए हैं. वायुसेना यहां दिन के अलावा रात में भी उड़ान भरकर चीन पर नजर रखती आई है.

आसमान में राफेल ने भरी उड़ान, शुरू हो सकता..., भारत की पैनी निगाहें

 

लेकिन इस बार वायुसेना ने राफेल लड़ाकू विमान को भी मैदान में उतार दिया है, जो चीन को चेतावनी देने जैसा है. यानी औपचारिक रूप से वायुसेना में शामिल होने के दस दिन के भीतर ही राफेल लड़ाकू विमान सीमा पर दुश्मन को चेताने लगा है. राफेल विमान दस सितंबर को वायुसेना में शामिल हुआ था.

समाचार एजेंसी के मुताबिक, सोमवार को भी राफेल लड़ाकू विमान लद्दाख और लेह के आसमान में उड़ान भरते दिख सकते हैं. सीमा पर जारी तनाव के बीच भारतीय सेना अलर्ट पर है, साथ ही वायुसेना भी लगातार चीन पर नजरें बनाए हुए हैं. ऐसे में वायुसेना के मिग-29, तेजस पहले से ही चीनी सीमा के पास उड़ान भरते हुए दिखे हैं.

भारत और चीन के बीच लद्दाख सीमा पर तनाव की स्थिति बरकरार है. पांच महीने से चल रही खींचतान के बाद अब एक बार फिर कॉर्प्स कमांडर लेवल की बात हो रही है.

चीन लगातार भारत को धमकाने की कोशिश कर रहा है, लेकिन हर बार उसे मात मिल रही है. इस बीच भारतीय वायुसेना की नई ताकत राफेल लड़ाकू विमानों ने भी लद्दाख के आसमान में उड़ान भरना शुरू कर दिया है. रविवार की देर शाम अंबाला एयरबेस से राफेल लड़ाकू विमानों ने लद्दाख के लिए उड़ान भरी और हालात का जायजा लिया.

लद्दाख के आसमान में राफेल लड़ाकू विमान उड़ान भर रहा है. भारत और चीन के बीच विवाद के कारण वायुसेना पूरी तरह से तैयार है और पड़ोसी की हर हरकत पर नजर बनाए हुए है.

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!