Friday , November 22 2019 4:06
Breaking News

जुर्माना भरे वाहन चालकों को छोड़ने के लिए पुलिस ने लिया रिश्वत का सहारा कहा :’100 रुपयें कोई बड़ी…’

Loading...

भारतीय में सरकारी अधिकारियों का रिश्वत से गहरा संबंध है और ऐसे कई उदाहरण सामने हैं जब लोगों को सरकारी अधिकारियों से बिना देरी किए काम करवाने के लिए रिश्वत देनी पड़ी है।


पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
यहां तक ​​कि पुलिसकर्मी बिना किसी आधिकारिक जुर्माना भरे वाहन चालकों को छोड़ने के लिए रिश्वत लेते हैं। यह भारत में काफी आम है, लेकिन यह कैसे हो सकता है जब आपके पास सारे दस्तावेज हैं, आप सभी नियमों का पालन भी कर रहें हैं और आपने हेलमेट भी पहनी है लेकिन फिर भी आपसे रिश्वत की मांग की जाती है।

Loading...

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
जी हां, एक वीडियो सामने आया है जिसमें एक पुलिस वाले को बाइकर्स के समूह से रिश्वत मांगते दिखाया गया है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो तमिलनाडु की है।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
पुलिस वाले को बाइकरों के के दस्तावेज जांचते देखा जा सकता है। पुलिस वाला एक-एक कर सभी के दस्तावेज की जांच करता है।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
जांच किए दस्तावेज सही निकलने पर बाइकरों का झुण्ड पुलिस वाले को धन्यवाद बोल कर जैसे ही वहां से जाने के लिए तैयार होता है, पुलिस वाला उन्हें रोक लेता है और उन्होंने हेलमेट पहनी है या नहीं इसकी जांच करने लगता है लेकिन सभी के पास हेलमेट होती है और सब सही सलामत होता है।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
सब कुछ सही जगह में पाए जाने के बाद, पुलिस वाला लोगों की संख्या संख्या गिनता है। जब वह देखता है कि समूह में पांच लोग हैं, तो वह उनसे 100 रुपये मांगता है।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
इसके बाद पुलिस वाला दलील पेश करते हुए कहता है कि क्योंकि वे पांच लोग है इसलिए 100 रुपये उनके लिए बड़ी रकम नहीं है। आपस थोड़ी बातचीत के बाद, बाइक वाले पुलिस को 100 रुपये का नोट सौंपने सौंप देते हैं और चले जाते हैं। यह सारी बातचीत तमिल में है।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
मुख्य सड़कों अथवा हाईवे पर अक्सर देखा जाता है कि पुलिस वाले बिना उचित कागजात वाले वाहनों से रिश्वत लेकर बड़े आराम से एक राज्य से दूसरे राज्य में जाने की अनुमति दे देते हैं।

पुलिस वाले ने बाइकरों के समूह से मांगी रिश्वत, कहा 100 रुपयें कोई बड़ी चीज नहीं
ड्राइवस्पार्क के विचार

भले ही भारत के लगभग सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने 1 सितंबर 2019 को संशोधित एमवी एक्ट लागू कर दिया हो लेकिन कुछ राज्य ऐसे हैं, जिन्होंने नए भारी जुर्माना का विरोध किया है। इस बात पर ध्यान देना चाहिए कि रिश्वत देना और लेना दोनों ही अवैध है। यदि कोई पुलिस या सिपाही पैसे की मांग करता है, तो उनसे हमेशा रसीद मांगनी चाहिए। रिश्वत मांगे जाने पर नजदीकी पुलिस स्टेशन जाकर शिकायत दर्ज करवाना चाहिए।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!