Breaking News

पेट्रोल-डीजल के बढे दाम, आम आदमी का हुआ बूरा हाल

Share & Get Rs.

कौशिक ने बताया कि वे लोग कुछ साल पहले तुर्की के अंकारा गए थे. यहां इसी तरह का एक तेल संयंत्र देखा था. संयंत्र के मालिकों के साथ चर्चा की और इसे भारतीय परिदृश्य में व्यावसायिक रूप से व्यावहारिक पाया. इन्फिनिटी ने पिछले साल मुरादाबाद में संयंत्र की स्थापना शुरू कर दी.

कौशिक के मुताबिक इसके लिए सरकार से ज्यादातर एनओसी मिल चुकी है. संयंत्र का प्रारंभिक निवेश लगभग पांच से सात करोड़ रुपए है, जिसके लिए इन्फिनिटी ने कोलकाता स्थित पोद्दार समूह के साथ 50 प्रतिशत की साझेदारी की है. करीब 1.5 एकड़ जमीन संयंत्र स्थापित किया जा रहा है. अगले कुछेक महीनों में उत्पादन शुरू कर सकता है.

नई तकनीक पर कुछ कारोबारियों ने दांव लगाना भी शुरू कर दिया है. पॉलिएथिलीन और पॉलिप्रोपाइलीन प्लास्टिक से डीजल का उत्पादन करने के लिए एक स्टार्टअप – इन्फिनिटी ग्रीनफील्ड (Infinity Greenfield) अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में ऐसा ही एक संयंत्र स्थापित कर रही है, जो 80 प्रतिशत तक तेल का उत्पादन कर सकता है.

बिजनेस स्टैंडर्ड में प्रकाशित खबर में इन्फिनिटी ग्रीनफील्ड के प्रबंध निदेशक विपुल कौशिक ने कहा कि वे मुरादाबाद में अपना नया वाणिज्यिक संयंत्र स्थापित करने के करीब हैं. यह 10 टन वाली इकाई होगी. कौशिक ने कहा कि संयंत्र से सारा डीजल केवल औद्योगिक और कृषि उपयोग के लिए ही होगा.

पेट्रोल-डीजल (Petrol-Diesel) के रोज बढ़ते दाम और महंगाई आम आदमी की कमर तोड़ रही है. कई राज्यों में पेट्रोल के दाम 100 रुपए प्रति लीटर के पार चले गए हैं. इसी बीच एक राहत की खबर भी है.

देहरादून के प्रतिष्ठित भारतीय पेट्रोलियम संस्थान (Indian Institute of Petroleum, आईआईपी) में वैज्ञानिकों के एक समूह ने प्लास्टिक (Plastic) पर प्रयोग करते हुए इससे सस्ता डीजल बनाने की तकनीक विकसित कर ली है.

 

 

Share & Get Rs.
error: Vision 4 News content is protected !!