Breaking News

आउटगोइंग कॉल की घंटी के समय में हुई कटौती, अब इतने मिनट तक बजेगी रिंग

Loading...

भारत में टेलीकॉम कंपनियों के बीच मोबाइल पर आउटगोइंग कॉल की घंटी कितनी देर तक बजनी चाहिए इस पर जंग छिड़ी हुई है। जियो के बाद एयरटेल ,वोडाफोन और आइडिया ने भी अब आउटगोइंग कॉल की घंटी के समय में कटौती कर दी है।

 

इन कंपनियों ने घंटी बजने का समय 45 सेकेंड से घटाकर 25 सेकेंड कर दिया है। एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया कंपनियों का कहना है कि आउटगोइंग कॉल की घंटी का समय 30 सेकेंड होना चाहिए। बता दें कि आउटगोइंग कॉल का अंतरराष्ट्रीय मानक समय 15 सेकेंड से 20 सेकेंड है, जबकि भारत में आउटगोइंग कॉल का 45 सेकेंड निर्धारित है।

Loading...

टेलीकॉम कंपनियों के बीच छिड़ी जंग

टेलीकॉम कंपनी जियो ने आउटगोइंग कॉल की घंटी का समय घटा दिया है। जियो ने दो महीने में आउटगोइंग कॉल की घंटी का समय 30 से 25 सेकेंड और फिर 20 सेकेंड कर दिया है। हालांकि की जियो की तर्ज पर एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया ने आउटगोइंग कॉल की घंटी समय सीमा को घटा दिया है।

इन कंपनियों का कहना है कि जियो द्वारा कॉल की घंटी कम रखने से उसे नुकसान उठाना पड़ रहा है। अब आउटगोइंग कॉल की घंटी को लेकर कंपनियों के बीच जंग छिड़ी हुई है। वहीं टेलीकम्यूनिकेशन को रेगुलेट करने वाली संस्था भारतीय दूरसंचार विनियामक प्राधिकरण (ट्राई) ने सभी ऑपरेटरों को इस मामले का हल निकालने के लिए 14 अक्टूबर को बुलाया है।

30 सेकेंड रखने पर जताई सहमति

आउटगोइंग कॉल की घंटी के मामले पर दूरसंचार कंपनियों की 6 सितंबर को ट्राई के साथ बैठक हुई थी। बैठक में एयरटेल, वोडाफोन, बीएसएनएल और एमटीएनएल हिस्सा लिया था। इन कंपनियों ने कम से कम आउटगोइंग कॉल की घंटी का समय 30 सेकेंड रखने पर सहमति जताई थी। वहीं ट्राई ने ओपन हाउस फोरम में इस मामले पर 14 अक्टूबर अंतिम फैसला लेने के लिए कहा था।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!