सिंघु बॉर्डर पर दलित की हत्या पर मायावती ने जताया दुख, कहा – शर्मनाक घटना

Share & Get Rs.

सिंघु बॉर्डर पर केंद्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों का धरना जारी है. इस बीच शुक्रवार को एक व्यक्ति की बेरहमी से हत्या का मामला सामने आया. पुलिस के अनुसार सिंघु बॉर्डर पर एक निहंग ने युवक की हत्या कर दी. इस घटना को लेकर अब राजनीति भी तेज हो गई है.

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट कर दलित युवक की हत्या पर दुख जताया है. साथ ही घटना को शर्मनाक बताया है. पूर्व सीएम ने घटना को गंभीरता से लेते हुए दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई की मांग की है. पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपए की मदद और सरकारी नौकरी देने की मांग की है. छत्तीसगढ़ में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान लखीमपुर खीरी की तरह हुई घटना को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा है.

मायवती ने ट्वीट किया- सिंघु बॉर्डर पर पंजाब के एक दलित युवक की नृशंस हत्या अति-दुखद व शर्मनाक. पुलिस घटना को गंभीरता से लेते हुए दोषियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करे तथा पंजाब के दलित सीएम भी लखीमपुर खीरी की तरह पीड़ित परिवार को 50 लाख रुपए की मदद व सरकारी नौकरी दें, बीएसपी की यह मांग.

मायावती ने अगले ट्वीट में छत्तीसगढ़ में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुई घटना का जिक्र करते हुए लिखा- छत्तीसगढ़ में दुर्गा प्रतिमा विसर्जन के दौरान भीड़ को कार से कुचलने से हुई एक व्यक्ति की मौत व अनेकों के घायल होने की घटना अति-दुखद, जो लखीमपुर खीरी की घटना की याद ताजा करती है. कांग्रेस सरकार पीड़ित परिवारों को आर्थिक मदद व नौकरी दे तथा दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करे.

Share & Get Rs.