Sunday , September 27 2020 4:17
Breaking News

अब कोरोना मरीज़ों के लिए तैयार हुआ ये, मुहैया कराया जाएगा…

उन्होंने सरकार के उस संकल्प को फिर दोहराया जिसमें कोविड 19 के मरीज़ों को बेड से वंचित न किया जाना और शीघ्र उपचार शामिल है. बैठक में इस बात पर भी ज़ोर दिया गया कि जो मरीज़ कोविड के साथ अन्य बीमारियों वाले हैं उनका शीघ्र इलाज किया जाए.

 

एक आधिकारिक विज्ञप्ति में अस्पतालों को कोविड रोगियों के बिना रोक-टोक प्रवेश को सुनिश्चित करने के लिए कहा गया है. उन्हें संक्रमण की रोकथाम और नियंत्रण पर सभी उपाय अपनाने के साथ-साथ कर्मचारियों को प्रेरित रखने, स्वास्थ्य कर्मियों की सुरक्षा के लिए भी प्रोत्साहित किया गया.

केंद्र के साथ राज्यों का भी यही लक्ष्य है कि कोरोनावायरस मृत्यु दर को कम रखा जाए. भूषण ने फिक्की और एम्स नई दिल्ली के सहयोग से मंत्रालय द्वारा देश में कोविड -19 इलाज को लेकर निजी अस्पतालों के लिए एक वर्चुअल कॉन्क्लेव का उद्घाटन किया.

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने शनिवार को कहा कि यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि कोरोनावायरस (Coronavirus) मरीज़ों को बेड से वंचित न किया जाए और उन्हें बेहतर इलाज की सुविधा उपलब्ध कराई जाए. उन्होंने कहा कि हमारा सामूहिक लक्ष्य एक ऐसी स्वास्थ्य प्रणाली है, जिसमें सभी के लिए सस्ती, सुलभ सुविधाएं मुहैया की जाएं.

देश में रोज़ाना तेज़ी से बढ़ रहे कोरोनावायरस (Coronavirus) के मामलों के बीच स्वास्थ्य मंत्रालय ने देशभर के 150 से अधिक अस्पतालों के प्रतिनिधियों के साथ बातचीत की. इस दौरान मंत्रालय की ओर से केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव ने डॉक्टरों से कुछ महत्वपूर्ण बातों को साझा किया.

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!