Friday , November 22 2019 17:08
Breaking News

कर देने वाले करोड़पतियों का 20 प्रतिशत का इजाफा हुआ कम

Loading...
भारत में करोड़पतियों की तादाद लगातार बढ़ रही है. हाल ही में केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ( CBDT ) ने एसेसमेंट ईयर 2018-19 के लिए कर देने वालों का डाटा जारी किया था, जिससे हैरानी वाली बात सामने आई है. डाटा के अनुसार, वर्ष 2018-19 में हिंदुस्तान में कर देने वाले करोड़पतियों की संख्या में 20 प्रतिशत का इजाफा हुआ है. बता दें, कि करोड़पतियों की संख्या का ये डाटा सीबीडीटी ने कॉर्पोरेट, फर्म्स, हिन्दू अविभाजित परिवार (एचयूएफ)  इंडिविजुअल की ओर से दी गई आय की जानकारी के आधार पर है.

इतनी है करोड़पतियों की संख्या

सीबीडीटी के आंकड़ों के अनुसार, वर्ष 2018-19 में 97,689 करदाताओं की आय एक करोड़ से भी ज्यादा थी. इससे पिछले वर्ष यानी 2017-18 की बात करें, तो तब 81,344 करदाताओं की आय एक करोड़ से ज्यादा थी.

5.87 करोड़ लोगों ने दाखिल किया इनकम टैक्स रिटर्न

डाटा के अनुसार, एसेसमेंट ईयर 2018-19 के लिए 15 अगस्त तक 5.87 करोड़ लोगों ने इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल किया था. इसमें 5.52 करोड़ इंडिविजुअल, 11.3 लाख हिन्दू अविभाजित परिवार, 12.69 लाख फर्म  8.41 लाख कंपनियां शामिल हैं.

31 अगस्त तक इतने इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल

आयकर आकलन साल 2019-20 के लिए आय का विवरण दाखिल करने की अंतिम तिथि 31 अगस्त तक विभाग को 5.65 करोड़ से अधिक इनकम टैक्स रिटर्न प्राप्त हुए. यह पिछले साल प्राप्त रिटर्न से चार प्रतिशत अधिक है. आकलन साल 2018-19 में इस अवधि में 5.42 करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न दाखिल किए गए थे.

विज्ञापन

कुल दाखिल 5.65 करोड़ इनकम टैक्स रिटर्न में से 3.16 करोड़ रिटर्न सत्यापित किए जा चुके हैं. 2.86 करोड़ करदाताओं (79 फीसदी) ने ई-सत्यापन का विकल्प चुना. इसके लिए ज्यादातर आधार  एक बार के लिए पासवर्ड (ओपीटी) के माध्यम को चुना गया.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!