Wednesday , September 23 2020 21:20
Breaking News

अभी – अभी इस राज्य में जारी हुआ अलर्ट, 6 से 8 सितंबर के बीच…

6 जिलों में जारी हुई चेतावनी , लोग अपने – अपने घरो की और जा रहे. इन दो दिनों में भी हल्की गतिविधियां बनी रहेंगी. मौसम विभाग ने 6 जिलों में भारी बारिश के साथ अति भारी बारिश की चेतावनी जारी की है. रीवा, सतना सीधी, शहडोल, उमरिया, पन्ना जिलों में भारी बारिश के साथ अति भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है.

रीवा, शहडोल, सागर, जबलपुर संभागों के जिलों, होशंगाबाद, इंदौर, उज्जैन, भोपाल, चंबल, ग्वालियर संभागों के जिलों में गरज चमक के साथ बौछारें पड़ सकती हैं.

हालांकि उत्तरी और उत्तर-पूर्वी भागों में इन दो दिनों में भी हल्की बारिश की गतिविधियां बनी रहेंगी। उसके बाद 6 से 8 सितंबर के बीच बारिश के एक नया दौर देखने को मिलेगा। उस दौरान बारिश की तीव्रता अधिक होगी और बारिश का प्रभाव उत्तरी तथा उत्तर-पूर्वी जिलों पर अधिक रहने की संभावना है।

बारिश की गतिविधियां 3 सितम्बर को बढ़ेंगी और उम्मीद है कि पूर्वी और पश्चिमी हिस्सों के साथ-साथ मध्य इलाकों में भी बारिश दर्ज की जाएगी।

इस दौरान भोपाल, रायसेन, होशंगाबाद और आसपास के अन्य जिलों में भी बारिश हो सकती है। मौसम विशेषज्ञों के अनुसार 4 और 5 सितम्बर को एक बार फिर से बारिश में कमी आनी शुरू होगी।

वरिष्ठ मौसम वैज्ञानिक अजय शुक्ला ने जानकारी देते हुए बताया कि मध्य प्रदेश पर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है और मॉनसून की अक्षीय रेखा इस सर्कुलेशन के आसपास है.

जिसके चलते राज्य के विभिन्न भागों पर फिर से मॉनसून सक्रिय हो रहा है। इससे उत्तरी मध्य प्रदेश में कुछ स्थानों पर बारिश हुई है तो प्रदेश भर में कुछ संभागों के जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है तो कुछ जिलों में बौछारें पडऩे के आसार हैं।

गुरुवार से शुरू होकर बारिश का यह दौर दो दिन तक चलेगा। इस दौरान पूर्वी मध्य प्रदेश में रीवा, सतना, पन्ना, छतरपुर, खजुराहो, सिंगरौली, सीधी, शहडोल, जबलपुर, नरसिंहपुर, उमरिया, मंडला, बालाघाट, डिंडोरी, छिंदवाड़ा में बारिश देखने को मिलेगी।

इसी दौरान पश्चिमी मध्य प्रदेश में श्योपुर, गुना, राजगढ़, आगर-मालवा, नीमच, मंदसौर, रतलाम, झाबुआ और उज्जैन में भी हल्की से मध्यम वर्षा के आसार हैं।

मध्य प्रदेश में 2020 के मॉनसून सीजन में सबसे ज़्यादा बारिश अगस्त महीने में हुई है। यूं तो अगस्त की शुरुआत से ही राज्य के विभिन्न भागों में व्यापक वर्षा हुई।

लेकिन सबसे ज़्यादा बारिश आखिरी हफ्ते में देखने को मिली। फिलहाल दो दिनों से मध्य प्रदेश पर बारिश नहीं हो रही है। लेकिन एक बार फिर से राज्य में मौसम का मिजाज बदलने वाला है। प्रदेश में बारिश के लिए मॉनसून सक्रिय हो रहा है।

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!