Breaking News

हिंदुस्तान का पक्ष रखते हुए विदिशा मैत्रा ने पाक के पीएम को ‘नियाजी’ से किया संबोधित

Loading...

संयुक्त राष्ट्र महासभा (UNGA) में इमरान खान के हिंदुस्तान के विरूद्ध जहर उगलने के बाद हिंदुस्तान ने मुंहतोड़ जवाब दिया है। यूनाइटेड नेशंस में हिंदुस्तान की प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने हिंदुस्तान का पक्ष रखते हुए पाकिस्तानी पीएम को उनके सारे नाम इमरान खान ‘नियाजी’ से संबोधित किया। दरअसल इमरान आमतौर पर अपने सरनेम का उपयोग नहीं करते हैं।’

इसके पीछे एक बड़ा कारण ये है कि 1971 की लड़ाई में पूर्वी पाकिस्तान (वर्तमान बांग्लादेश) के तत्कालीन लेफ्टिनेंट जनरल एएके नियाजी ने अपनी फौज के साथ इंडियन आर्मी के सामने आत्म समर्पण कर दिया था। उसके बाद से कई प्रसिद्ध पाकिस्तानी शख़्सियतों ने इस उपनाम से परहेज करना शुरुआत कर दिया। नियाजी एक पख्तून ट्राइब है। इसकी जड़ें पूर्वी अफगानिस्तान से मानी जाती हैं। पाकिस्तान के उत्तरी-पश्चिमी पंजाब के मियांवाली में नियाजी ट्राइब बहुत पहले आकर बस गई थी।

Loading...

उल्लेखनीय है कि UN में हिंदुस्तान की प्रथम सचिव विदिशा मैत्रा ने ‘राइट टू रिप्लाई’ (Right to Reply) प्रावधान का उपयोग करते हुए पाकिस्तानी पीएम इमरान खान के भड़काऊ सम्बोधन पर सख्त जवाब दिया है। उन्होंने बोला कि पाकिस्तान ने यूनाइटेड नेशंस में आतंकवाद को ठीक ठहराया। पाकिस्तान ने संसार के सबसे बड़े मंच का गलत प्रयोग किया।हिंदुस्तान ने इमरान पर हमला बोलते हुए बोला कि जिस शख्स ने कभी जेंटलमेन गेम क्रिकेट खेला हो, उसका संयुक्त राष्ट्र में दिया गया सम्बोधन नफरत से भरा हुआ था।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!