Breaking News

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में इस कारण भड़का दंगा, हिंदू मंदिरों व घरों में हुई जमकर तोड़फोड़

Loading...

पाकिस्तान के सिंध प्रांत में एक बच्चे के पिता द्वारा एक स्कूल के हिंदू प्रधानाचार्य के खिलाफ ईश निंदा की झूठी रिपोर्ट दर्ज करा देने पर दंगा भड़क गया। दंगाइयों ने स्कूल में घुसकर तोड़फोड़ करने के बाद तीन हिंदू मंदिरों पर भी हमला बोलकर उसे ध्वस्त कर दिया। हिंदू समुदाय के कई घरों में भी तोड़फोड़ की गई है।

दंगाई भीड़ प्रधानाचार्य को उनके हवाले करने की मांग कर रही थी। मानवाधिकार कार्यकर्ताओं ने सरकार से अल्पसंख्यक हिंदुओं की सुरक्षा की मांग की है। पूरे प्रांत में हिंदू समुदाय के लोगों में घटना के बाद से खौफ का माहौल बना हुआ है। सिंध के घोटकी जिले में सिंध पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य नोटन मल के खिलाफ एक बच्चे के पिता अब्दुल अजीज राजपूत की तरफ से कथित तौर पर ईशनिंदा किए जाने की रिपोर्ट दर्ज कराने के बाद शनिवार को उग्र प्रदर्शन शुरू हो गया।

Loading...

उग्र भीड़ अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के प्रधानाचार्य पर कार्रवाई की मांग कर रही थी। पाकिस्तान मानवाधिकार आयोग की तरफ से शेयर किए गए वीडियो में दिखाया गया है कि उग्र भीड़ ने स्कूल में घुसकर जबरदस्त तोड़फोड़ कर दी। आयोग ने हालात पर चिंता जताते हुए ट्वीट किया है। सोशल मीडिया पर इस घटना से जुड़े कई वीडियो जमकर वायरल हो रहे हैं, जिनमें उग्र दंगाइयों की भीड़ एक हिंदू मंदिर में घुसकर उसे ध्वस्त करते हुए दिखाई दे रही है। इसके बाद भीड़ स्कूल में घुसकर तोड़फोड़ करती भी दिखाई दे रही है। घोटकी के आसपास के शहरों मीरपुर मथेलो और आदिलपुर में भी प्रदर्शनकारियों ने सड़कों पर जाम लगाते हुए प्रधानाचार्य की गिरफ्तारी की मांग की है।

सामाजिक कार्यकर्ताओं और पत्रकारों ने ट्विटर पर दंगे की वीडियो और फोटो अपलोड किए हैं। साथ ही सिंध सरकार से अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय की सुरक्षा के उपाय करने की मांग की है। मानवाधिकार कार्यकर्ता सत्तार जंगजू के मुताबिक दंगों के कारण क्षेत्र में हिंदू समुदाय के लोग अपने घरों में बंद हो गए हैं। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) पार्टी के सांसद रमेश कुमार वांकवानी ने तीन हिंदू मंदिरों, एक निजी स्कूल और हिंदू समुदाय के कई घरों में तोड़फोड़ करने की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि प्रधानाचार्य को सुरक्षा कारणों से अज्ञात जगह रखा गया था और आगे की जांच के लिए उसे हैदराबाद के डिप्टी इंस्पेक्टर जनरल नईम शेख के हवाले कर दिया गया है। पाकिस्तान हिंदू काउंसिल के भी अध्यक्ष वांकवानी ने पुलिस से दंगाइयों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने की मांग की है।

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!