Breaking News

डाकघर की छोटी बचत योजनाओं में निवेश करना चाहते हैं तो घर बैठे ऐसे उठाए इसका लाभ

Loading...

आप डाकघर की छोटी बचत योजनाओं में निवेश करना चाहते हैं तो आपको सिर्फ एक बार डाकघर जाने की आवश्यकता पड़ेगी. एक बार वहां आरडी, पीपीएफ या सुकन्या समृद्धि खाता खुल जाने के बाद उसमें राशि घर बैठे औनलाइन जमा कर सकते हैं. इसके साथ ही आपको एक बचत खाता इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) में खुलवाना होगा जिसके जरिए औनलाइन राशि जमा करा सकते हैं.

एप  नेट बैंकिंग का दोहरा विकल्प

Loading...

आईपीपीबी के औनलाइन बैंकिंग के माध्यम से या उसके एप के जरिये आप डाकघर की छोटी बचत योजनाओं में राशि घर बैठे जमा करा सकते हैं. इसके लिए आपको डाकघर की संबंधित जमा योजना का खाता संख्या  डाकघर में जमा की पहचान संख्या (डीओपी आईडी) चाहिए. डीओपी अच्छा वैसे ही है जैसे बैंक की ग्राहक आईडी होती है. एक बैंक में आपका विभिन्न प्रकार का खाता होने कि सम्भावना है. लेकिन आईडी एक ही होती है.

ऐसे जमा करें औनलाइन राशि

सबसे पहले आईपीपीबी में अपने बैंक खाता से राशि डालें. इसके बाद आईपीपीबी के औनलाइन बैंकिंग के तहत डीओपी प्रोडक्ट पर क्लिक करें. इसके बाद आरडी या सुकन्या या संबंधित जमा योजना का चुनाव करें  उसके बाद आरडी या उस योजना का खाता संख्या का विवरण देने के साथ आईडी का विवरण दें. इसके बाद जमा योजना में राशि डालने की अवधि  राशि का चुनाव करें. जमा अवधि योजनाओं के मुताबिक प्रति माह, तिमाही, छमाही या सालाना भी हो सकती है. सभी विवरण को सावधानी से पढ़ने के बाद औनलाइन भुगतान की अंतिम प्रक्रिया को पूरा करें. भुगतान पास होने पर आईपीपीबी एसएमस के जरिये इसकी सूचना भी देगा.

कितना मिलेगा ब्याज

डाकघर में भिन्न-भिन्न योजनाओं में 8.4 प्रतिशत तक ऊंचा ब्याज मिल रहा है. अक्तूबर-दिसंबर अवधि के लिए पांच वर्ष की आरडी पर 7.2 प्रतिशत ब्याज मिल रहा है जो बैंकों की एफडी से करीब 0.50 प्रतिशत तक ऊंचा है. वहीं पीपीएफ पर 7.9 प्रतिशत ब्याज मिल रहा है. जबकि बेटियों के लिए सुकन्या समृद्धि जमा योजना पर 8.4 प्रतिशत ब्याज मिल रहा है.

टैक्स बचत का भी लाभ

डाकघर नौ तरह की बचत योजनाओं की सुविधा देते हैं. इनमें अधिकांश में निवेश पर इनकम टैक्स की धारा 80सी के तहत 1.50 लाख रुपये तक की कर छूट मिलती है. वहीं पीपीएफ  सुकन्या समृद्धि खाता पर मिलने वाला ब्याज भी कर मुक्त  (टैक्स फ्री) है. सरकार ने छोटी बचत के जरिये निवेश को बढ़ावा देने के लिए डाकघर की योजनाओं को आकषर्क बनाया है.

एक क्लिक पर एसबीआई में पीपीएफ खाता

पीपीएफ खाता आप डाकघर के साथ भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) सहित कुछ चुनिंदा सरकारी  व्यक्तिगत बैंकों में भी खुलवा सकते हैं. आपका बचत खाता एसबीआई में तो आप एक क्लिक पर उसमें पीपीएफ खाता खुलवा सकते हैं. इसके लिए सबसे पहले औनलाइन बैंकिंग लॉगइन करें. इसके बाद रिक्वेस्ट एंड इन्क्वायरी पर क्लिक करें  उसके बाद न्यू पीपीएफ खाता पर क्लिक करें. ऐसा करने पर पीपीएफ का एक अलग पेज खुल जाएगा जहां आवेदन में मांगी गई संबंधित जानकारी भरें. उसे औनलाइन जमा करने के बाद रिफरेंस नंबर मिलेगा. अब भरे हुए आवेदन को डाउनलोड करके  उसपर हस्ताक्षर करने के बाद केवाईसी दस्तावेज के साथ एसबीआई के संबंधित शाखा में 30 दिन के भीतर जमा कर दें.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!