खुजली की समस्या से हैं परेशान तो करे करी पत्ता का इस्तेमाल , जानिए कैसे…

Share & Get Rs.

मीठा नीम जिसकी ताजा-ताजा पत्तियों में एक अलग ही खुशबु होती है जो खाने के स्वाद को बढ़ाती ही है और इसके सेवन से सेहत को भी कई लाभ होते है यह स्वाद में भले ही कड़वा हो लेकिन इससे होने वाले लाभ अमृत से कम नहीं है।

कुछ लोग करी पत्ता सब्जी से बाहर निकालकर रख देते है जबकि इसे खा लेना चाहिए करी पत्ता का सेवन लीवर को सशक्त बनता है यह लीवर को बैक्‍टीरिया तथा वायरल इंफेक्शन से बचाता है इसके अलावा करी पत्ता का सेवन फ्री रेडिकल्स ,हेपेटाइटिस ,सिरोसिस जैसी कई बीमारियों से भी बचाता है।

1 बिच्छू ततैया जैसे विषैले कीटों द्वारा काट लेने पर, नीम के पत्तों को महीन पीस कर काटे गए स्थान पर उसका लेप करने से राहत मिलती है, और जहर भी नहीं फैलता।

2 किसी प्रकार का घाव हो जाने पर भी नीम के पत्तों का लेप लगाने से काफी लाभ मिलता है। इसके अलावा जैतून के तेल के साथ नीम की पत्त‍ियों का पेस्ट बनाकर लगाने से नासूर भी ठीक हो जाता है।

3 दाद या खुजली की समस्याएं होने पर, नीम की पत्त‍ियों को दही के साथ पीसकर लगाने पर काफी जल्दी लाभ होता है। और दाद की समस्या समाप्त हो जाती है।

4 गुर्दे में पथरी होने की स्थिति में नीम के पत्तों की राख को 2 ग्राम मात्रा में लेकर, प्रतिदिन पानी के साथ लेने पर पथरी गलने लगती है, और मूत्रमार्ग से बाहर निकल जाती है।

5 मलेरिया बुखार होने की स्थिति में नीम की छाल को पानी में उबालकर, उसका काढ़ा बना लें। अब इस काढ़े को दिन में तीन बार, दो बड़े चम्मच भरकर पीने से बुखार ठीक होता है और कमजोरी भी ठीक होती है।

Share & Get Rs.