Breaking News

 पूर्व नेता सांसद दुष्यंत चौटाला ने अपने परिवार की सुरक्षा की करी मांग

Loading...

जननायक जनता पार्टी (जेजेपी) के नेता  पूर्व सांसद दुष्यंत चौटाला ने पंजाब-हरियाणा उच्च न्यायालय में याचिका दायर कर अपनी  परिवार की सुरक्षा की मांग की है. उच्च न्यायालय इस याचिका पर वीरवार को सुनवाई करेगा.

दुष्यंत चौटाला की तरफ से याचिका में बताया गया कि उनकी तथा उनके परिवार की जान को खतरा है  ऐसे में पुलिस को आदेश दिए जाएं कि वह पर्याप्त सुरक्षा उपलब्ध कराए. याचिका में चौटाला ने बोला कि जब वह एक सियासी प्रोग्राम में व्यस्त थे उनके फोन पर एक कॉल आई. इस कॉल को उनके सहायक ने उठाया तो फोन करने वाले ने अपना नाम पवन बताया  बोला कि वह दुबई से फोन कर रहा है.

इसके बाद फोन पर उनके सहायक को धमकी भरे अंदाज में बोला कि चौटाला को कह देना चुनावी रैलियों में ज्यादा न बोले. यदि बात नहीं मानी गई तो गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार हो जाएं. जिस आदमी ने उन्हें कॉल किया था उसने खुद का वास्ता पाब्लो एस्कोबार नाम के रैकेट से बताया.

Loading...

दुष्यंत चौटाला को फोन पर धमकी देने का मुद्दा सामने आया है. हालांकि पुलिस मुद्दे की जाँच कर रही है, लेकिन दुष्यंत चौटाला से इस बारे में कोई जानकारी नहीं मिल पाई है. फोन कॉल दुबई से किसी पवन नामक आदमी की बताई जा रही है. जेजेपी के शीर्ष सूत्रों के अनुसार धमकी देने वाले ने अपने आपको दुनियां के सबसे बड़े गैंग का मेम्बर बताया है.

धमकी मिलने के बाद दुष्यंत ने हरियाणा के डीजीपी और जींद के एसपी को सूचना भेज दी है. जींद के एसएसपी अश्विन शैणवी ने बोला कि दुष्यंत चौटाला की तरफ से उन्हें मैसेज कर शिकायत की गई थी, हालांकि इस मुद्दे में उन्हें लिखित में कोई शिकायत नहीं मिली है. इस संदर्भ में उनसे बात हुई है. वह इस मुद्दे की लिखित में शिकायत दे रहे हैं  पुलिस कार्रवाई कर रही है.
जेजेपी सूत्रों के अनुसार सोमवार शाम सात बजे दुष्यंत चौटाला के मोबाइल नंबर पर विदेशी नंबर से फोन आया. फोन उनके सहायक ने उठाया. फोन करने वाले ने बोला कि वह पवन बोल रहा है. ‘तू बहुत उल्टा-पुल्टा बोल रहा है. ज्यादा मत बोल कम बोल.’ साथ ही बोला कि वह संसार के सबसे बड़े गैंग पाबलो एस्कोबार गैंग का मेम्बर है. दुष्यंत ने फोन आने के बाद प्रदेश के डीजीपी और जींद के एसपी की मैसेज कर इसकी जानकारी दी  ऑडियो उपलब्ध करवाई.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!