Breaking News

बुरी आदत की वजह से आतंकवादियों के सरगना पाक ने LoC के पास दोबारा एक्टिव किये सात लॉन्चिंग पैड्स

Loading...

एक तरफ पाक पूरी प्रयास में है कि किसी भी तरह वह FATF की ग्रे लिस्ट से बाहर निकल आए, तो वहीं दूसरी तरफ वह अपनी हरकतों से भी बाज नहीं आ रहा है. आतंक को पनाहगाही देना व उग्रवादी नीतियां उसकी वो बुरी आदत बन चुकीं हैं, जिससे पाक छोड़ नहीं पा रहा है.

अपनी इसी आदत के आदि व आतंकवादियों के सरगना पाक ने भारत-पाक नियंत्रण रेखा (LoC) के पास सात लॉन्चिंग पैड्स को दोबारा एक्टिव किया है, ताकि वो जिहादियों को हिंदुस्तान में दाखिल करा सकें.

Loading...

275 जिहादियों की घुसपैठी की तैयारी में पाक

मीडिया रिपोर्ट्‌स के मुताबिक, पाक करीब 275 जिहादियों को जम्मू और कश्मीर में घुसपैठी कराने की खतरनाक योजना में है. इन आतंकवादियों में अफगानी व पश्तून के आतंकवादी भी शामिल हैं. आपकी जानकारी के लिए बताते चलें कि पाक की इस नापाक हरकत का खुलासा ऐसे समय में हुआ है, जब उसका एक 15 सदस्यीय दल बैंकॉक में FATF को ये हिसाब देने पहुंचा है कि उसके देश ने आतंक को रोकने के लिए क्या किया है. व इसी आधार पर आगामी अक्टूबर में उसके किस्मत का निर्णय होना है.

पाकिस्तानी सेना व ISI की मिलीभगत

एक उच्च अधिकारिक सूत्र ने मीडिया को बताया कि हालांकि, कश्मीर में दहशत फैलाने की पाकिस्तान की योजना में अफगान व पश्तून जिहादियों की सहभागिता अभूतपूर्व नहीं है, यह बहुत ज्यादा असामान्य है. यह सिलसिला 1990 से चला आ रहा है.

एक मीडिया हाउस ने दावा किया है कि उनके हाथ कुछ ऐसे दस्तावेज लगे हैं, जिनमें पाक की चाल का खुलासा हुआ. दस्तावेजों के आधार पर पता चला है कि पाकिस्तानी सेना व ISI ने LoC के पास अधिक से अधिक आतंकवादियों को घुसाने के लिए लॉन्चपैड तैयार किए हैं. उनके निशाने पर उत्तरी कश्मीर का गुरेज सेक्टर बताया जा र हा है.

इन सेक्टरों पर निशाना

अभी तक पता चला है कि करीब 80 आतंकवादी गुरेज सेक्टर में, 60 मच्छल, 50 कारनाह, 40 केरान, 20 उरी, 15 नौगम व 10 रामपुर में अपना डेरा डाले बैठे हुए हैं.

फरवरी में घबराए पाकिस्तान ने बंद किया था आतंकवादी अड्डा

आपको बता दें कि इन लॉन्चिंग पैड को फरवरी में पुलवामा में हुए आत्मघाती हमले के बाद पाक ने बंद कर दिया था. उस वक्त के वैश्विक दबाव व हिंदुस्तान के आक्रामक रवैए से घबराए पाकिस्तान ने आतंकवादियों को छुपाना ही मुनासिब समझा था. इसके बाद हिंदुस्तान ने पाकिस्तान सीमा के अंदर जाकर बालाकोट के आतंकवादी कैंपों पर एयर हड़ताल की थी.

आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाकिस्तान दे रहा धमकी

हालांकि, कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के बाद से ही पाक हिंदुस्तान में हिंसा करने की धमकी दे रहा है. इसी की तैयारी में उसने ये कदम उठाया है. बता दें कि इससे पहले भी सियालकोट में पाकिस्तान ने आकस्मित ही सैनिकों की संख्या बढ़ा दी थी.

Share & Get Rs.
Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!