Monday , September 28 2020 14:48
Breaking News

चीन ने कर दिखाया ये बड़ा काम, दोबारा इस्तेमाल किया…, दागी मिसाइल

अमेरिका का एक्स-37 बी मानवरहित अंतरिक्ष यान है जिसका परिचालन ‘स्पेस शटल’ के लघु संस्करण की तरह होता है। इसे रॉकेट के जरिये अंतरिक्ष में भेजा जाता है और वापस यह धरती पर सामान्य विमान की तरह हवाई पट्टी पर उतरता है।

 

अखबार के मुताबिक अबतक एक्स-37बी को अलग-अलग भार और उड़ान के समय के साथ पृथ्वी की कक्षा में चार बार गोपनीय तरीके से भेजा गया है।

यान को अंतरिक्ष में भेजने से पहले चुप्पी साधे रहे सैन्य अधिकारियों ने बताया कि इस प्रक्षेपण में कई चीजें पहली बार हुई हैं। उन्होंने कहा, ”यह अंतरिक्ष यान नया है, प्रक्षेपण करने का तरीका अलग है।”

हांगकांग से प्रकाशित साउथ चाइन मॉर्निंग पोस्ट ने रविवार को अपनी खबर में अधिकारी को उद्धृत करते हुए कहा कि उन्होंने मिशन की विस्तृत जानकारी देने से इनकार कर दिया लेकिन संकेत दिया कि यह अमेरिका के एक्स-37बी की तरह है।

चीन का दोबारा इस्तेमाल किए जाने योग्य प्रायोगिक अंतरिक्ष यान दो दिन पहले कक्षा में छोड़े जाने के बाद रविवार को सफलतापूर्वक अपने निर्धारित स्थान पर उतर आया।

यह जानकारी सरकारी मीडिया के अधिकारी ने दी। अंतरिक्ष यान को लॉन्ग मार्च-2एफ रॉकेट के जरिये शुक्रवार को जियूक्वान उपग्रह प्रक्षेपण केंद्र से रवाना किया गया था।

सरकारी सीजीटीएन टीवी ने बताया कि यान की सफलतापूर्वक वापसी चीन के लिए दोबारा इस्तेमाल की जाने वाले अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी की दिशा में बड़ी उपलब्धि है, जिससे और आसानी से तथा कम कीमत पर यान का शांतिपूर्ण इस्तेमाल किया जा सकेगा।

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!