Saturday , October 24 2020 3:27
Breaking News

चीन ने जारी किया युद्धा का संदेश, लड़ाकू विमानों को किया तैयार , किसी भी वक्त…

ताइवान को इससे डर होना चाहिए. यह युद्धाभ्यास ताइवान पर कब्जे का ड्रिल है. अखबार ने दावा किया कि अमेरिका ने आधिकारिक तौर पर उप विदेश मंत्री क्रैच की ताइवान यात्रा की घोषणा नहीं की थी.

चीन ने जारी किया युद्धा का संदेश, लड़ाकू विमानों को किया तैयार , किसी भी वक्त...

लेकिन, जब वह ताइवान पहुंचे, तो उनका स्वागत पीएलए ने युद्धाभ्यास के जरिए किया. इसलिए यह अभ्यास अंतिम-मिनट का निर्णय था. इतने कम समय में एक बड़े पैमाने पर कार्रवाई का आयोजन किया जा सकता है.

चीन की इस उकसावे वाली कार्रवाई के समय अमेरिकी उपविदेश मंत्री किथ क्राच ताइवान में लोकतांत्रिक व्यवस्था को तबदील करने वाले पूर्व राष्ट्रपति ली तेंग हुई को श्रद्धांजलि दे रहे थे.

इससे पहले शुक्रवार को चीन ने 18 फाइटर जेट्स के साथ ताइवान सीमा में घुसपैठ की थी. ताइवान की अमेरिका से नजदीकी के बाद से लगातार चीन और ताइवान के संबंध बिगड़ रहे हैं. दूसरी ओर चीनी मीडिया भी लगातार ताइवान के खिलाफ आक्रामक रुख इख्तियार किए हुए है.

चीन (China) लगातार अपने पड़ोसी देशों की जमीन पर कब्जा करने की कोशिश कर रहा है. लद्दाख में भारत-चीन का तनाव (India-China tension) चरम पर है. वहीं दूसरी ओर चीन को अमेरिका (America) से ताइवान (Taiwan) की बढ़ती नजदीकियां बर्दाश्त नहीं हो रही हैं.

ऐसे में चीन के सरकारी अखबार की मानें तो चीन ताइवान पर सैन्य कार्रवाई का मन बना चुका है. शनिवार को लगातार तीसरे दिन चीन ने ताइवानी एयरस्पेस में अपने 19 लड़ाकू विमानों को भेजा.

चीन के इस घुसपैठिया बेड़े में 12 जे-16 फाइटर जेट, 2 जे-10 फाइटर जेट, 2 जे-11 फाइटर जेट, 2 एच-6 परमाणु बॉम्बर और एक वाय-8 एंटी सबमरीन एयरक्राफ्ट शामिल था.

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!