Tuesday , September 22 2020 7:53
Breaking News

चीन ने बॉर्डर पर किया हंगामा, हो रहा है ये, किसी वक़्त ले सकते पोजिशन…

जिनपिंग 2022 में होने वाली नैशनल कांग्रेस से पहले देश के सुरक्षातंत्र को मजबूत करना चाहते हैं। ऐसे अधिकारी जिनकी वफादारी से जिनपिंग को संतुष्टि नहीं होती है, उन्हें माओ-स्टाइल में सबक दिया जाता है। हर एजेंसी में एक ही मंत्र चल रहा है कि हर बात पर शी का कहा माना जाए।

 

उन्हें इस बारे में पता है और अगर अमेरिका चीनी अर्थव्यवस्था पर दबाव बनाता रहा तो CCP की केंद्रीय समिति उन्हें रिप्लेस करने के बारे में सोच सकती है।

गौरतलब है कि वॉशिंगटन डीसी में उइगर टाइम्स एजेंसी के संस्थापक ताहिर इमीन ने Express से बताया है, ‘वह धरती पर अकेले ऐसे नेता हैं जो किसी केंद्रीय सरकार में सारी 11 पोजिशन ले सकते हैं।’ पूर्व CCP पार्टी स्कूल प्रफेसर चाई शिया ने FRA चाइनीज से पिछले महीने बताया, ‘CCP के अंदर शी के लिए बड़ी चुनौती है।

आपको बता दें कि किसी भी वक़्त जिनपिंग को खतरा है कि देश में कहीं राजनीतिक तख्तापलट न हो जाए। इसलिए उन्होंने इस बात को सुनिश्चित करने के लिए कड़े कदम उठाने शुरू कर दिए हैं कि पुलिस ऑफिसर, जज और स्टेट सिक्यॉरिटी एजेंट की जवाबदेही सिर्फ उनके प्रति हो।

भारत-चीन के बीच बॉर्डर तनाव चरम पर है, ऐसे में चीन के भीतर ही कई विरोध की आवाज़ उठने लगी है. आपको बता दें कि पूरी दुनिया पर चीन का प्रभुत्व कायम कर देश को सुपरपावर बनाने का सपने देख रहे शी जिनपिंग को अब अपनी ही कुर्सी संभालने की चिंता होने लगी है।

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!