चीन ने पाकिस्तानी सेना को मदद का किया ऐलान, जाने पूरी खबर

Share & Get Rs.

चीनी सैन्य नेतृत्व ने पाकिस्तान को अपना खास मित्र बताते हुए कहा कि चीनी सेना क्षेत्र में ‘जटिल समस्याओं’ से निपटने और दोनों बलों के बीच सहयोग को मजबूत करने के लिए पाकिस्तान सशस्त्र बलों के साथ मिलकर काम करेगी। पाकिस्तान के सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा ने रविवार को राष्ट्रपति शी जिनपिंग की अध्यक्षता में चीन के शक्तिशाली केंद्रीय सैन्य आयोग (सीएमसी) के उपाध्यक्ष जनरल झांग यूक्सिया के नेतृत्व में चीनी सैन्य नेतृत्व प्रतिनिधिमंडल के साथ व्यापक बातचीत की।

पाकिस्तान सेना के एक बयान के अनुसार, पाकिस्तान के त्रि-सेवा सैन्य प्रतिनिधिमंडल ने नौ से 12 जून तक चीन का दौरा किया था, जहां उसने चीनी सेना और अन्य सरकारी विभागों के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ व्यापक चर्चा की। शीर्ष बैठक 12 जून को हुई थी जिसमें पाकिस्तानी पक्ष का नेतृत्व जनरल बाजवा ने किया था, जबकि चीनी पक्ष का नेतृत्व जनरल झांग ने किया था

पाकिस्तान और चीन ने रविवार को इस ‘‘चुनौतीपूर्ण समय में अपनी रणनीतिक साझेदारी’’ की पुष्टि की और पारस्परिक हित के मुद्दों पर विचारों के नियमित आदान-प्रदान को जारी रखने पर सहमति व्यक्त की। सीएमसी में शी जिनपिंग के डिप्टी झांग ने बाजवा को बताया, “चीन संचार को मजबूत करने, सहयोग को मजबूत करने, पाकिस्तान के साथ व्यावहारिक आदान-प्रदान को गहरा करने और क्षेत्रीय स्थिति में जटिल समस्याओं से ठीक से निपटने के लिए तैयार है, ताकि आगे के विकास के लिए सैन्य-से-सैन्य संबंधों को आगे बढ़ाया जा सके।” एक आधिकारिक चीनी बयान में बाजवा को बताते हुए झांग के हवाले से कहा गया, “चीन और पाकिस्तान हर मौसम में रणनीतिक सहयोगी साझेदार हैं।”

Share & Get Rs.