Tuesday , September 22 2020 7:01
Breaking News

भारत के खिलाफ चीन और पाकिस्तान कर रहे ये काम, सेना के तैनात किया…

यह सभी के लिए बहुत महत्वपूर्ण समय है, क्योंकि हमारे दोनों पड़ोसी देश हमारे खिलाफ योजना बना रहे हैं. उन्होंने इस दौरान विषम परिस्थितियों में भी चौबीसों घंटें देश की सुरक्षा में लगे बीएसएफ जवानों के योगदान को भी सराहा.

 

उन्होंने बीएसएफ पलौरा कैंप जम्मू में सैनिक सम्मेलन को भी संबोधित किया. इस दौरान उन्होंने कहा कि चूंकि पाकिस्तान और चीन भारत के खिलाफ योजना बना रहे थे.

इसलिए सीमाओं की रक्षा में बीएसएफ की भूमिका अधिक महत्वपूर्ण हो गई. बीएसएफ प्रवक्ता ने महानिदेशक के हवाले से कहा कि हमारी भूमिका अब और महत्वपूर्ण हो गई है क्योंकि हम भारतीय रक्षा की पहली पंक्ति हैं.

उनके साथ एसएस पंवार, एडीजी (डब्ल्यूसी) और एनएस जामवाल, आईजी बीएसएफ, जम्मू फ्रंटियर भी थे. बीएसएफ की तैयारियों और स्थिति के बारे में डाइरेक्टर जनरल को आईडी सिंह, डीआईजी राजौरी और फील्ड कमांडर्स ने जानकारी दी. महानिदेशक ने सुरक्षाबलों द्वारा अपनाए जा रहे उतकृष्ट तालमेल की भी तारीफ की.

सेना के पास 744 किलोमीटर लंबी एलओसी के परिचालन की कमान है, बीएसएफ को भी यहां तैनात किया गया है. रविवार को अपनी यात्रा के तीसरे दिन, सीमा सुरक्षा बल के महानिदेशक, राकेश अस्थाना ने विभिन्न रक्षा स्थानों का दौरा किया और स्थिति का जायजा लिया.

सीमा सुरक्षा बल (BSF) के महानिदेशक राकेश (Rakesh Asthana) अस्थाना ने जम्मू कश्मीर की अपनी तीन दिवसीय यात्रा के अंतिम चरण में राजौरी और पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा (एलओसी) का दौरा किया. सीमा पर रक्षा की पहली पंक्ति होने वाले बल को रेखांकित करते हुए उन्होंने कहा चीन और पाकिस्तान दोनों हमारे खिलाफ योजना बना रहे हैं.

 

 

 

Share & Get Rs.
error: Content is protected !!