बाढ़ के कारण असम का हाल बेहाल, करीमगंज में दो लाख लोग प्रभावित, अब तक 36 की मौत

गुवाहटी: पिछले कुछ दिनों से असम में भारी बारिश के कारण बाढ़ की स्थिति पैदा हो गई। शुक्रवार को भी यहां बाढ़ की स्थिति गंभीर बनी हुई थी। कई जिलों के चार लाख लोग बाढ़ के प्रभाव से जूझ रहे हैं। एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी। कोपिली, बराक और कुशियारा समेत कई नदियां अपने खतरे के स्तर से ऊपर बह रही हैं। 19 जिलों के करीब चार लाख लोग बाढ़ग्रस्त इलाकों में रहने को मजबूर हैं। इन जिलों में बजाली, बक्सा, बारपेटा, बिस्वनाथ, कछार, दरांग, गोलपारा, हैलाकांडी, होजई, कामरूप, करीमगंज, कोकराझार, लखीमपुर, नागांव, नलबाड़ी, सोनितपुर, दक्षिण सालमारा, तामुलपुर और उदलगुरी शामिल है।

कुछ हिस्सों में बिजली गिरने के साथ बारिश का अनुमान
असम के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। आने वाले कुछ दिनों में विभिन्न स्थानों पर आंधी और बिजली गिरने के साथ बारिश का भी अनुमान लगाया गया है। भारी बारिश और बाढ़ के कारण करीमगंज सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ। यहां दो लाख लोग प्रभावित हुए। इस साल बाढ़, भूस्खलन और तूफान में मरने वालों की संख्या 36 हो गई। राज्य भर में 100 से भी अधिक राहत शिविर स्थापित किए गए हैं। इन शिविरों में करीब 14,000 लोगों ने शरण ले रखी है। बाढ़ के कारण सड़के और पुल भी क्षतिग्रस्त हो चुके हैं।